सुशील मोदी बोले- निजी क्षेत्र को सरकारी MSP पर खरीद के लिए बाध्य करना संभव नहीं

Smart News Team, Last updated: Sun, 21st Feb 2021, 12:14 PM IST
  • बिहार इंडस्ट्री एसोसिएशन कार्यक्रम में बिहार पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशिल कुमार मोदी ने एमएसपी पर खरीद को कानूनी दर्जा नहीं देने की बाद स्वीकारी है. साथ ही कहा कि ऐसा करने पर अर्थव्यवस्था पर 10 हजार करोड़ से ज्यादा का बोझ बढ़ेगा.
सुशील मोदी बोले- निजी क्षेत्र को सरकारी MSP पर खरीद के लिए बाध्य करना संभव नहीं

पटना. बिहार इंडस्ट्री एसोसिएशन की तरफ से कृषि और विकास विषय पर डॉ राजेंद्र प्रसाद की स्मृति पर व्याख्यान का आयोजन किया गया. जिसमे बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशिल कुमार मोदी भी शामिल हुए. इस कार्यक्रम के दौरान सुशिल कुमार ने कहा कि कोई भी सरकार निजी क्षेत्र को सरकार एमएसपी पर खरीद के लिए बाध्य नहीं कर सकती है. साथ ही उन्होने ने कहा कि एमएसपी पर खरीद करने के लिए कानूनी स्वरूप देना भी संभव नहीं है. यदि करना पड़े तो इसके लिए 10 हजार करोड़ से अधिक रुपए खर्च होंगे.

सुशिल कुमार मोदी ने इस कार्यक्रम में आगे कहा कि केंद्र सरकार ने वर्ष 2020-21 में किसानो के लिए खाद्य, फर्टिलाइजर, पीएम किसान, फसल बीमा व ब्याज अनुदान दिए है. जो करीब 6 लाख 56 हजार करोड़ का है. साथ ही उन्होंने ने बताया कि पंजाब वर्ष 2000 में प्रति व्यक्ति आय के मामले देश में नम्बर एक पर था, लेकिन उसकी संख्या अब 13 वें स्थान पर पहुंच गई है. जिसका कारण सिर्फ एक ही तरह की खेती करना है. जिससे आय में वृद्धि नहीं की जा सकती है.

नीति आयोग की बैठक में CM नीतीश बोले-बिजली में वन नेशन वन रेट की नीति लागू हो

वहीं इस कार्यक्रम में सुशिल मोदी ने कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस कि गलत नीतियों के कारण ही बिहार, बंगाल और पूर्वी भारत में धान की फसल के लिए प्रोत्साहित नहीं किया जबकि यहां पर धान की फसल के लिए उपयुक्त मात्रा में पानी की प्रचुरता है. वहीं इसकी जगह पर उन्होंने ने पंजाब को धान और गेहू की फसल के लिए प्रोत्साहन किया है.

1 मार्च से पहली से पांचवी कक्षा तक के स्कूल खुलेंगे, एक दिन में आएंगे 50% बच्चे

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें