विधान परिषद चुनाव:नवल किशोर समेत 7 उम्मीदवारो ने भरा नामांकन,22 अक्टूबर को मतदान

Smart News Team, Last updated: 04/10/2020 02:08 AM IST
  • बिहार विधान परिषद चुनाव 2020 को लेकर नामाकंन का दौर शुरू हो गया है. पटना शिक्षक और स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 7 उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल किया है. इनमें 5 स्नातक और 2 शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए. 
बिहार विधान परिषद चुनाव 2020 के लिए 7 उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल किया है

पटना: पटना शिक्षक एवं स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के लिए शनिवार को कुल 7 प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र दाखिल किया, जिसमें पांच प्रत्याशी स्नातक तथा 2 प्रत्याशी शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के हैं. शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से विधान परिषद सदस्य नवल किशोर यादव ने भी पर्चा भरा. स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से विधान परिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह के दामाद रवि रंजन ने भी नामांकन पत्र दाखिल किया है. हालांकि वे निर्दलीय रूप में पर्चा दाखिल किए हैं.

भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के रूप में शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से नवल किशोर यादव तथा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के अशोक कुमार यादव ने नामांकन किया है. इससे पहले निर्दलीय प्रत्याशी अवधेश कुमार सिन्हा ने शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से नामांकन किया है. इधर, स्नातक निर्वाचन क्षेत्र में जदयू के नीरज कुमार और निर्दलीय रवि रंजन के आमने-सामने हो जाने के कारण चुनाव दिलचस्प हो गया है, क्योंकि रवि रंजन विधान परिषद सभापति के दामाद हैं. हालांकि भाजपा ने उन्हें अपना उम्मीदवार नहीं बनाया है.

चुनाव की तैयारियों पर प्रमंडलीय आयुक्त ने की बैठक

प्रमंडलीय आयुक्त पटना संजय कुमार अग्रवाल ने बिहार विधान परिषद के पटना शिक्षक एवं स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव कार्य के सफल एवं सुचारु संचालन सुनिश्चित कराने हेतु पटना नालंदा एवं नवादा के सहायक निर्वाची पदाधिकारी सह जिलाधिकारी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की तथा आवश्यक निर्देश दिया.

बिहार चुनाव: BJP ने 5 विधान परिषद उम्मीदवारों के नाम किए जारी, इन्हें मिला टिकट

प्रमंडलीय आयुक्त ने मतदान केंद्रों को सेक्टर में विभक्त करने तथा प्रत्येक सेक्टर के लिए एक डेडिकेटेड पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश दिया. इसके लिए प्रखंड विकास पदाधिकारी को सेक्टर पदाधिकारी नामित करने तथा उन्हें अपने-अपने सेक्टर में भ्रमणशील रहकर चुनाव कार्य संबंधी निर्धारित दायित्व का निर्वहन करने का निर्देश दिया है. उन्होंने वोटर लिस्ट के विखंडीकरण का कार्य 10 अक्टूबर के पूर्व सुनिश्चित करने का निर्देश दिया. पटना जिले से सामग्री की आपूर्ति इस चुनाव कार्य के लिए की जानी है, जिसे 10 अक्टूबर को उपलब्ध करा दिया जाएगा. आयुक्त ने सूची से सामग्री का मिलान करने तथा जांच कर लेने का निर्देश दिया.

बिहार चुनाव: रामविलास पासवान की तबीयत बिगड़ी, लोजपा संसदीय बोर्ड की बैठक टली

आयुक्त ने सभी सहायक निर्वाची पदाधिकारी को मतदान केंद्रों पर मतदान की तिथि, मतदान का समय एवं मतदान केंद्र का नाम अविलंब अंकित कराने का निर्देश दिया. इसके लिए आयुक्त ने संबंधित विद्यालयों के कमरे में मतदान केंद्र की स्थिति का निरीक्षण करने का निर्देश संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी को दिया ताकि कमरे में सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन सुनिश्चित कराया जा सके. आयुक्त ने उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को मतदान केंद्रों की सूची पटना, नालंदा एवं नवादा के सहायक निर्वाची पदाधिकारी सह जिलाधिकारी को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें