NDA को तोड़ने का दावे कर रहे बड़बोले, इसमें कोई राजनीतिक सच्चाई नहीं: सुशील मोदी

Smart News Team, Last updated: Fri, 1st Jan 2021, 11:02 PM IST
  • राजद नेताओं के एनडीए को तोड़ने के दावे पर भाजपा के राज्यसभा सांसद और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि राजद नेता बड़बोले बयान दे रहे हैं, इामें कोई राजनीतिक सच्चाई नहीं है.
भाजपा राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने कहा कि राजद नेता बड़बोले बयान दे रहे हैं.

पटना. राजद नेताओं के एनडीए तोड़ने के दावे पर भाजपा के राज्यसभा सांसद और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि राजद नेता बड़बोले दावे कर अपनी लॉयल्टी साबित कर रहे हैं, इसमें कोई राजनीतिक सच्चाई नहीं है. इससे पहले बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कहा था कि नीतीश कुमार को महागठबंधन में शामिल करने पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव विचार करेंगे.

सुशील मोदी ने शुक्रवार को बयान जारी करते हुए कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारत से बाहर किसी अज्ञात स्थान से संदेश देकर देशवासियों को नव वर्ष की बधाई और कहा कि उनका दिल उन किसानों के साथ है जो अन्यायी शक्ति के विरुद्ध लड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि राहुल की टिप्पणी पर कांग्रेस को मांफी मांगनी चाहिए और बताना चाहिए कि ये टिप्पणी पार्टी की राय है या नहीं.

बिहार सरकार में VIP के मुकेश सहनी सबसे अमीर तो रामप्रीत सबसे कम संपत्ति वाले मंत्री

राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव से पहले लालू प्रसाद की पार्टी अपने दर्जन भर एमएलए-एमएलसी को जदयू में जाने से नहीं रोक पाई. उसका 10 लाख लोगों को एक झटके में सरकारी नौकरी देने का अव्यवहारिक वादा नकार दिया गया. उन्होंने कहा कि गरीबों-मजदूरों, युवाओं-महिलाओं ने जिस पार्टी के अनुभवीहीन वंशवादी नेतृत्व केा विपक्ष में बैठने को जनादेश दिया. उसका कोई न कोई एनडीए को तोड़ने के बड़बोले दावे कर रह है.

बिहार सरकार का प्रशासनिक महकमे में बड़ा फेरबदल, 27 IAS और 38 IPS का तबादला

सुशील मोदी से पहले राबड़ी देवी के बयान पर जदयू के बशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि राजद के लोग सपना देखते हैं, कल्पना में जीते हैं. परिणाम आए और सरकार बने एक माह से अधिक हो गए लेकिन अब तक वे हार को पचा नहीं पा रहे हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें