BPSC ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए दो एग्जाम की डेट की स्थगित

Smart News Team, Last updated: 04/04/2021 02:14 PM IST
  • बीपीएससी ने 8 अप्रैल को होने वाली 31वीं बिहार न्यायिक सेवा की मुख्य परीक्षा को स्थगित कर दिया है. वहीं 11 अप्रैल को आयोजित होने वाली प्रोजेक्ट मैनेजर की प्रारंभिक परीक्षा को स्थगित कर दिया है.
BPSC ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए दो एग्जाम की डेट की स्थगित

पटना: प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच बिहार लोक सेवा आयोग बीपीएससी ने दो प्रतियोगिता परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है. बीपीएससी ने 8 अप्रैल को होने वाली 31वीं बिहार न्यायिक सेवा की मुख्य परीक्षा को स्थगित कर दिया है. वहीं 11 अप्रैल को आयोजित होने वाली प्रोजेक्ट मैनेजर की प्रारंभिक परीक्षा को स्थगित कर दिया है. आयोग के संयुक्त सचिव सह परीक्षा नियंत्रक अमरेंद्र कुमार ने बताया कि कोविड के संक्रमण में अप्रत्याशित वृद्धि को देखते हुए परीक्षा को स्थगित की गई है. जैसी ही स्थिति नियंत्रित होगी परीक्षा की तिथि को एकबार फिर से जारी किया जाएगा. 31वीं न्यायिक सेवा की परीक्षा पटना जिला में थी. वहीं प्रोजेक्ट मैनेजर की परीक्षा पटना मुजफ्फरपुर,भागलपुर,गया सहित कई केंद्रों पर होनी थी.

बता दें कि 31वीं न्यायिक सेवा (असैनिक न्यायाधीश, कनीय कोटि) परीक्षा इसी माह 8 अप्रैल को होनी थी. इसी तरह परियोजना प्रबंधक की प्रारंभिक परीक्षा 11 अप्रैल को ली जानी थी. उद्योग विभाग में जिला परियोजना प्रबंधक के 69 पदों पर विज्ञापन निकाला गया था. इसके लिए 11 को परीक्षा आयोजित की जानी थी, जो अब स्थगित कर दी गई है.

झारखंड: मधुपुर उपचुनाव में JMM उम्मीदवार को समर्थन देंगी वामपंथी पार्टियां

इसी तरह 31वीं न्यायिक सेवा परीक्षा में कुल 221 रिक्त पदों के लिए 2380 अभ्यर्थी परीक्षा में भाग लेने वाले थे. कोरोना संक्रमण के प्रसार को देखते हुए मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना एवं कर्नाटक जैसे राज्यों में न्यायिक सेवा की परीक्षाएं पहले ही स्थगित कर दी गई थीं. वहीं कुछ राज्यों में परीक्षा के लिए होम सेंटर की व्यवस्था की गई है.

नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, सार्वजनिक कार्यक्रमों पर लगी रोक, स्कूल रहेंगे बंद

 बता दें कि अभ्यर्थियों ने बिहार लोक सेवा आयोग से आग्रह किया था कि परीक्षा की तिथि को आगे बढ़ा दिया जाए. कई अभ्यर्थियों ने दूरभाष पर कहा कि ऐसे विषम संकट में प्रतियोगी कहां रहेंगे, जहां संक्रमण का खतरा ना हो. गौरतलब है कि बिहार में भी कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए 12 अप्रैल तक शिक्षण संस्थानों को बंद कर दिया गया है. साथ ही सार्वजनिक कार्यक्रमों के आयोजन पर भी रोक लगा दी है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें