BSP में तेजस्वी की चुनावी सेंध, अब बसपा प्रदेश अध्यक्ष भरत बिंद राजद में शामिल

Smart News Team, Last updated: 03/10/2020 10:55 PM IST
  • चुनाव के करीब आने के साथ ही गठबंधन बनने और टूटने का सिलसिला शुरू हो चुका है. शनिवार को बसपा के प्रदेश अध्यक्ष भरत बिंद ने राजद की सदस्यता ले ली. इससे पहले उपेंद्र कुशवाहा की रालोपसा के प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी को तेजस्वी यादव आरजेडी में ला चुके हैं.
बसपा के प्रदेश अध्यक्ष भरत बिंद को पार्टी की सदस्यता दिलाते राजद नेता तेजस्वी यादव

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव से पहले राजद नेता और पूर्व मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने रालोसपा-बसपा गएठबंधन को एक और झटका दे दिया है. बसपा के प्रदेश अध्यक्ष भरत बिंद ने शनिवार को आरजेडी का दामन थाम लिया. शनिवार को तेजस्वी यादव ने भरत बिंद को आरजेडी की सदस्यता दिलाई. इससे पहले तेजस्वी उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी आरएलएसपी के प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी को भी राजद में शामिल कर चुके हैं.

जानकारी के मुताबिक उपेंद्र कुशवाहा द्वारा बसपा संग मिलकर बनाए गए मोर्चे में सीट बंटवारे पर आपसी सहमति बन गई है. बसपा बिहार में करीब 90 सीटों पर चुनावी मैदान में होगी जबकि बाकी की 153 सीटें रालोसपा को दी जा रही हैं. जानकारी के लिए बता दें कि  इसमें उसे जनवादी पार्टी सोशलिस्ट के अलावा इस गठबंधन में शामिल अन्य दलों को भी शामिल करना होगा. चुनावों से पहले अभी गठबंधन में कई अन्य छोटे दलों के भी शामिल होने की संभावना है. मायावती ने कहा है कि गठबंधन जीता तो उपेंद्र कुशवाहा मुख्यमंत्री बनेंगे.

बिहार चुनाव: LJP की मीटिंग के बाद NDA कर सकता है सीट बंटवारे का ऐलान

वहीं सूत्रों का कहना है कि असुदुद्दीन ओवैसी की पार्टी से भी बातचीत चल रही है. रालोसपा व बसपा ने अपने नए गठबंधन को कुछ नाम भले न दिया हो लेकिन सीट बंटवारे के मामले में वो दूसरों से आगे निकलते दिख रहे हैं. सूत्रों की मानें तो बंटवारे का जो फार्मूला तय हुआ है, उसके हिसाब से बसपा के 90 के आसपास सीटों पर लड़ने की संभावना है. इनमें से करीब 35 सीटें वो हैं जहां पहले चरण में चुनाव होना है. इसके साथ ही दो-तीन अन्य छोटे दलों से भी बातचीत का सिलसिला जारी है. अगर इन लोगों के साथ बात बनती है तो शनिवार को इसका ऐलान भी किया जा सकता है

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें