मायावती के इकलौते BSP MLA जमा खान JDU में शामिल, नीतीश सरकार में बनेंगे मंत्री !

Smart News Team, Last updated: Fri, 22nd Jan 2021, 6:04 PM IST
  • बसपा विधायक जमा खान जेडीयू में शामिल हो गए हैं. जमा खान ने भाजपा के दिग्गज नेता और मंत्री बृज किशोर बिंद को 2020 बिहार विधानसभा चुनाव में 24 हजार से ज्यादा वोटों के अंतर से हराया था.
बसपा के इकलौते विधायक जेडीयू में शामिल.

पटना. बसपा विधायक जमा खान नीतीश कुमार की जेडीयू में शामिल हो गए हैं. नीतीश कैबिनेट में भाजपा की तरफ से मुस्लिम नेता सैयद शाहनवाज हुसैन का नाम जबसे सामने आया है उसके एक हफ्ते में ही बहुजन समाज पार्टी के विधायक जमा खान जेडीयू में हो गए हैं.

मोहम्मद जमा खान ने 2020 के विधानसभा चुनाव में बसपा की टिकट से चैनपुर विधानसभा सीट पर जीत हासिल की थी. अब उनके जेडीयू में शामिल होने के फैसले को बसपा सुप्रीमो मायावती के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. 

विधायक जमा खान ने हिंदुस्तान टाइम्स से फोन पर बात करते हुए बताया कि वह शुक्रवार की शाम बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी से मिलेंगे. इसी के साथ बसपा विधायक ने बताया कि उन्हें लगता है कि सरकार में शामिल होकर चुनाव के दौरान लोगों से किए गए वादों को वह पूरा कर सकते हैं. जमा खान ने बताया कि अगर आप सत्ताधारी पार्टी में हैं तो अपने शब्दों को पूरी तरह से अनुवाद कर सकते हैं और मुझे जनता के लिए सत्ताधारी पार्टी में शामिल होना गलत नहीं लगता है. 

लालू यादव की तबीयत खराब, चार्टर्ड फ्लाइट से रांची जा रही हैं राबड़ी देवी, तेजस्वी

नीतीश कुमार के कैबिनेट में उन्हें मंत्री पद मिलने की पूरी संभावना है. जमा खान ने बीजेपी के दिग्गज नेता और मंत्री बृज किशोर बिंद को बिहार विधानसभा चुनावों में 24 हजार से ज्याद वोटों के अंतर से हराया था. 2010 विधानसभा चुनाव में भी विधायक जमा खान ने कांग्रेस की सीट से चुनाव लड़ा था लेकिन वह भाजपा के नेता बृज किशोर बिंद से हार गए थे.

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी से पासआउट बसपा नेता को यूपी की राजनीति की अच्छी जानकारी के लिए जाना जाता है. राजनीतिक सूत्रों के अनुसार माना जा रहा है कि जेडीयू अगले यूपी विधानसभा चुनाव में एंट्री लेने की तैयारी कर रही है. 

सावधान! सोशल मीडिया पर मंत्रियों के बारे में लिखा कुछ गलत तो ऐसे पड़ेगा भुगतना

जानकारी के लिए बता दें कि जमा खान ने 18 दिसंबर 2020 को जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण से उनके आवास पर मुलाकात की थी जिसके बाद से ही उनके जदयू में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे थे. 

एडल्ट ग्रुप में लड़कियों के नंबर एड करना पड़ा महंगा, पुलिस ने पकड़ा साइबर फ्रॉड 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें