पशुपति पारस का बयान- बाढ़ दैवीय प्रकोप, पीड़ितों से भी नहीं करेंगे मुलाकात, बताई ये वजह

Smart News Team, Last updated: Wed, 25th Aug 2021, 4:55 PM IST
  • नरेंद्र मोदी सरकार में नए कैबिनेट मंत्री और लोजपा (पारस गुट) के अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस ने बिहार में बाढ़ को लेकर अटपटा बयान दिया है.  पारस ने कहा है कि वे बाढ़ दैवीय प्रकोप है जिसकी चपेट में पूरा देश है. साथ ही उन्होंने कहा कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता है इसलिए वे बाढ़ पीड़ितों से मिलने भी नहीं जाएंगे.
बाढ़ दैवीय प्रकोप, मैं लोगों से मिलने भी नहीं जा रहा- पशुपति पारस

पटना. बिहार की लोजपा (पारस) गुट के राष्ट्रीय अध्यक्ष, केंद्रीय मंत्री और हाजीपुर से सांसद पशुपति पारस ने बिहार में बाढ़ की हालत पर अटपटा बयान दिया है. नरेंद्र मोदी सरकार के नए कैबिनेट मंत्री पशुपति पारस ने बाढ़ को लेकर कहा कि यह एक दैवीय प्रकोप और पूरा देश की इसकी चपेट में है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वे पीड़ितों से भी जाकर नहीं मिलेंगे क्योंकि वे शारीरिक तौर पर अस्वस्थ हैं.

गौरतलब है कि पशुपति पारस ने यह विवादित बयान मंत्री बनने के बाद पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र हाजीपुर पहुंचने पर दिया. उन्होंने कहा कि इस दौरान वो जिले के अधिकारियों से लगातार बात कर रहे हैं और लोगों तक मदद पहुंचा रहे हैं.

दो दिन पहले पहुंचे हैं बिहार

पशुपति पारस मंत्री बनने के बाद दो दिन पहले बिहार पहुंचे हैं. जहां पटना पहुंचने पर उनका सभी कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया. इस दौरान चिराग पासवान को छोड़कर उनकी पार्टी के सभी सांसद कार्यक्रम में मौजूद रहे. उसके बाद वो हाजीपुर अपने क्षेत्र पहुंचे. जहां बाढ़ की समस्या को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने इस तरह का बयान दिय जा रहा है, जिसे लोग गैर जिम्मेदाराना बता रहे हैं.

नीतीश सरकार का बिहार अनलॉक 6 की घोषणा, सामान्य रूप से खुल सकेंगे सिनेमा हॉल, जिम, शॉपिंग माल, पार्क

अधिकारियों से कर रहा हूं बात

पारस ने कहा कि वो बाढ़ को लेकर जिले के अधिकारियों से बात कर रहे है और लोगों को मिल रही मदद की जानकारी भी ली. बता दें कि पशुपति पारस का संसदीय क्षेत्र हाजीपुर बाढ़ की समस्या से प्रभावित है और क्षेत्र के लोगों को इस समस्या से जुझना पड़ रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें