बिहार में 1 अप्रैल से ऑनलाइन होगा दाखिल खारिज, जानें फुल डिटेल्स

Smart News Team, Last updated: Thu, 1st Apr 2021, 11:59 PM IST
  • अब जमीन की खरीद के साथ ही उसका स्वत: दाखिल खारिज हो जाएगा. इसे स्वत: संज्ञान ऑनलाइन दाखिल- खारिज (सो-मोटो ऑनलाइन म्युटेशन) नाम दिया गया है.
बिहार में 1 अप्रैल से ऑनलाइन होगा दाखिल खारिज, जानें फुल डिटेल्स

पटना: बिहार राज्य में प्रॉपर्टी के स्वत: दाखिल खारिज की ऑनलाइन प्रक्रिया पहली अप्रैल से शुरू हो गई. पहले यह ऑफलाइन होता था जिसमे महीनों लग जाते थे, और इसमें फर्जीवाड़े के कई मामले सामने आते थे. अब, जमीन की खरीद के साथ ही उसका स्वत: दाखिल खारिज हो जाएगा. इसे स्वत: संज्ञान ऑनलाइन दाखिल- खारिज (सो-मोटो ऑनलाइन म्युटेशन) नाम दिया गया है. राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के मंत्री राम सूरत कुमार ने गुरुवार को अपने कार्यालय कक्ष में स्वत: संज्ञान ऑनलाइन दाखिल-खारिज प्रक्रिया की विधिवत शुरूआत की.

इसके लिए जमीन की रजिस्ट्री या प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री के समय ही आवेदक को एक फॉर्म भरकर देना होगा. यह फॉर्म उस इलाके के अंचल अधिकारी के नाम से लिखा गया है, जिसे निबंधन पदाधिकारी द्वारा भेजा जाना है. एक पृष्ठ के इस फॉर्म में आवेदक या क्रेता को अपने और विक्रेता के अलावे जमीन का संपूर्ण ब्यौरा उपलब्ध कराना है. 35 दिनों में दाखिल- खारिज की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी. आम लोगों को अब अंचल कार्यालय जाने की जरूरत नहीं होगी.

बिहार में हैवानियत की हद, गोपालगंज में 8 साल की बच्ची से रेप

आज यानि गुरुवार एक अप्रेल से नये वित्तीय वर्ष 2021-22 का आगाज हुआ है. नये वित्तीय वर्ष की शुरुआत के साथ ही बिहार में कई बदलाव हुए हैं. इसमें से सबसे पहला तो ये कि एक अप्रैल से रजिस्ट्री के साथ ही मकान, दुकान, फ्लैट जमीन का दाखिल- खारिज अपने आप हो जायेगा. रजिस्ट्री के साथ ही म्यूटेशन की प्रक्रिया ऑटोमैटिक (स्वत:) शुरू हो जायेगी. वहीं एक मई से सभी थाने ऑनलाइन हो जायेंगे जिससे लोगों को काफी सहूलियत होगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें