चिराग बोले- पारस का चुनाव असंवैधानिक, 20 जून को दिल्ली में LJP कार्यकारिणी बैठक

Smart News Team, Last updated: Thu, 17th Jun 2021, 11:00 PM IST
  • चिराग पासवान ने 20 जून को दिल्ली में लोजपा के चिराग गुट की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई है. चिराग 20 जून को होने वाली इस बैठक में कई बड़े फैसले कर सकते हैं. आज पटना में हुई पारस गुट की लोजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पशुपति पारस को निर्विरोध राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया है.
चिराग पासवान ने चाचा पशुपति पारस गुट द्वारा बुलाई गई राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक को असंवैधानिक बताया है

बिहार में दिवंगत दलित नेता रामविलास पासवान द्वारा बनाई गई लोक जनशक्ति पार्टी यानी लोजपा दो गुटों में बट गई है. लोजपा के एक गुट का नेतृत्व रामविलास पासवान के छोटे भाई पशुपति पारस और दूसरे गुट का नेतृत्व उनके बेटे चिराग पासवान कर रहे हैं. बता दें कि आज पटना में हुई पारस कैंप की लोजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पशुपति पारस को निर्विरोध राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया . हालांकि लोजपा के दूसरे गुट की आगुवाई कर रहे चिराग पासवान ने पटना में हुई कार्यकारिणी की बैठक को असंवैधानिक बताया है. साथ ही कोरम पूरा न होने का दावा किया है.

चिराग पासवान ने 20 जुन को दिल्ली में लोजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई है. बताया जा रहा है कि चिराग पासवान इस बैठक में कई बड़े फैसले कर सकते हैं. इससे पहले आज लोजपा नेता सूरजभान सिंह के पटना टीवी टॉवर स्थिति उनके घर पर चार घंटे से अधिक बैठक हुई. इसमें 10 प्रस्तावकों ने पशुपति पारस का नाम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए रखा. सूरजभान सिंह ने बताया कि पशुपति पारस को लोजपा का निर्विरोध राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया है. 71 सदस्यों ने अध्यक्ष के रूप में पशुपति पारस का समर्थन किया है.

पारस कैंप के LJP अध्यक्ष बन पशुपति बोले- मंत्री बना तो संसदीय दल नेता से इस्तीफा

लोजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने जाने के बाद पशुपति पारस ने कहा कि रामविलास पासवान के सपनों कों पूरा करेंगे. चिराग पासवान पर निशाना साधते हुए पशुपति पारस ने कहा कि अगर भतीजा तानाशाह हो जाए तो चाचा क्या करेगा. लोकतंत्र में कोई आजीवन अध्यक्ष नहीं होता. बता दें कि चिराग पासवान ने लोजपा से पशुपति पारस समेत सभी बागियों को पार्टी से निकाल दिया है. वहीं पशुपति पारस चिराग पासवान को को हटाकर खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष की कुर्सी पर काबिज हो गए हैं. हालांकि यह चुनाव आयोग तय करेगा लोजपा का अधिकार चिराग पासवान के पास रहेगा या पशुपति पारस के पास.

वैक्सीनेशन की दौड़ में बिहार सबसे आगे, 24 घंटे में 6 लाख से ज्यादा लगे टीके

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें