बिहार में टीकाकरण को लेकर CM नीतीश का निर्देश,इस बार स्कूल-कॉलेज में लगेंगे कैंप

Smart News Team, Last updated: 09/05/2021 12:55 PM IST
  • बिहार में टीकाकरण को लेकर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि पहले से लेकर अबतक अस्पतालों व स्वास्थ्य केन्द्रों में जो टीकाकरण किया जा रहा था, लेकिन अब उसकी जगह सभी स्कूल और कॉलेजों में टीकाकरण कराया जाए.
बिहार में टीकाकरण को लेकर CM नीतीश का निर्देश,इस बार स्कूल-कॉलेज में लगेंगे कैंप

पटना। बिहार में कोविड टीकाकरण शुरु होने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि लोगों का टीकाकरण करने की व्यवस्था स्कूलों या कॉलेजों में करें. मुख्यमंत्री ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए से टीकाकरण की स्थिति की विस्तृत समीक्षा करने के साथ साथ सभी पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि इस बात का खास ख्याल रखा जाए कि टीकाकरण केन्द्र पर टीका लगवाने वाले लोग संक्रमित न हों. सभी का टीकाकरण सुरक्षित माहौल में कराया जाए. सीएम नीतीश कुमार ने आगे कहा कि पहले से लेकर अबतक अस्पतालों व स्वास्थ्य केन्द्रों में जो टीकाकरण किया जा रहा था, लेकिन अब उसकी जगह सभी स्कूल और कॉलेजों में टीकाकरण कराया जाए.

इसी के संबंध में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आगे कहा कि पत्रकारों के टीकाकरण का उन केन्द्रों पर अलग से प्रबंध रखें. सभी टीकाकरण वाले स्थलों पर शौचालय, पेयजल और साफ सफाई आदि सुविधाओं की समुचित व्यवस्था रखें. केन्द्र पर सभी लोग कोविड नियमों का पालन करें. मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग टीके की उपलब्धता को लेकर लगातार प्रयासरत रहे और ज्यादा से ज्यादा लोगों का टीकाकरण कराएं. बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कोरोना संकट के बारे में बात करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण का अभी दौर चल रहा है. इससे लोगों के बचाव को लेकर सभी जरूरी कदम उठाये जा रहे हैं.

Ramadan 2021:बिहार, झारखंड और MP के 10 बड़े शहरों में 9 मई को रोजा इफ्तार टाइम

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रशासन को टीकाकरण के दौरान किसी तरह की कोई कोताही न बरतने के लिए कहा. उन्होंने आगे कहा कि रविवार से 18 से 44 वर्ष के लोगों के टीकाकरण की शुरुआत की जा रही है. स्वास्थ्य विभाग इसके लिये पूरी तैयारी रखे. लॉकडाउन के दौरान टीका लेने के लिये लोगों को आवागमन में किसी प्रकार की असुविधा न हो, यह सुनिश्चित करें.

तेज रफ्तार संपूर्ण क्रांति ट्रेन की चपेट में आया ट्रैक्टर, रेल विभाग में हड़कंप

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें