जनता दरबार में JDU विधायक पर महिला का गंभीर आरोप, CM नीतीश से बोली- MLA ने मेरे पति को मार डाला

Ankul Kaushik, Last updated: Mon, 6th Sep 2021, 4:18 PM IST
  • बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में एक महिला ने जदयू विधायक पर अपनी पति की हत्या का आरोप लगाया है. इसके साथ ही महिला ने कहा है कि इस मामले में पुलिस भी कोई कार्रवाई नहीं कर रही है.
जनता दरबार में CM नीतीश से महिला ने कहा जदयू विधायक ने की मेरे पति की हत्या

पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जनता की शिकायतों को लेकर जनता दरबार लगाते हैं. इस जनता दरबार में आई एक महिला ने जदयू विधायक पर हत्या का आरोप लगाया है. इस शिकायत को सुनकर सीएम नीतीश ने मामले को संज्ञान में लेते हुए जांच के आदेश दिए. सीएम नीतीश के जनता दरबार में वाल्मीकिनगर से आई महिला ने सीएम नीतीश के सामने अपनी फरियाद सुनाते हुए कहा कि जेडीयू विधायक रिंकू सिंह ने उनके पति की हत्या करवाई थी. इस मामले में पुलिस आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है. वहीं महिला की शिकायत के बाद मुख्यमंत्री नीतीश ने पीड़ित महिला को डीजीपी के पास भेज दिया. इसके साथ ही सीएम ने इस मामले की जांच करने का निर्देश डीजीपी को दिया है.

जनता दरबार में आई यह महिला पश्चिमी चंपारण के वाल्‍मिकीनगर की कुमोद वर्मा हैं. सीएम नीतीश के सामने अपनी शिकायत बताते हुए महिला ने कहा कि 14 फरवरी को उनके पति की हत्‍या वहां के विधायक रिंकू सिंह ने करवाई थी. इस घटना के संबंध में पुलिस ने भी कोई कार्रवाई नहीं की है. इसके साथ ही महिला ने कहा उनके पति पूर्व जिला पार्षद दयानंद वर्मा की हत्‍या मामले में जदयू विधायक धीरेंद्र प्रताप उर्फ रिंकू सिंह, शकील तथा बबलू के अलावा कई लोग आरोपी हैं. इस घटना में महिला ने एफआई दर्ज कराते हुए बताया था कि इन सभी आरोपियों ने एक साजिश के तहत पश्चिमी चंपारण के नौरंगिया थाने के सिरिसिया चौक के पास उसके पति की हत्या की थी.

हाई कोर्ट की महिला एडवोकेट के घर आधी रात को फायरिंग, आरोपियों की तलाश में छापे मारी जारी

यह हत्या एक विवाद को लेकर हुई थी जिसमें महिला के पति दयानंद वर्मा और शकील मियां के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया था. इस विवाद के बाद शकील ने महिला के पति को मारने की धमकी दी थी. फिर 14 फरवरी को शकील जेडीयू विधायक रिंकू सिंह समेत कई लोगों के साथ उसके पति के पास पहुंचा और उसे गोली मार दी. गोली लगने के बाद दयानंद वर्मा को नजदीकी अस्पताल में ले जाया गया लेकिन यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें