CM चन्नी के बयान पर सीएम नीतीश कुमार का जवाब, कहा- ऐसी बात कैसे बोल देते हैं

Ankul Kaushik, Last updated: Thu, 17th Feb 2022, 12:12 PM IST
  • पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के यूपी बिहार पर दिए गए बयान पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने पलटवार किया है. सीएम नीतीश ने कहा है कि हमें तो आश्चर्य लगता है कि ऐसी बात लोग कैसे बोल देते हैं. पंजाब में बिहार के लोगों की कितनी बड़ी भूमिका है, बिहार के लोगों ने कितनी सेवा की है.
बिहार सीएम नीतीश कुमार

पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में पंजाब की सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के यूपी बिहार पर दिए गए बयान पर जवाब दिया है. मीडिया से बात करते हुए सीएम नीतीश ने चन्नी के बयान पर कहा कि पंजाब में बिहार के लोगों की कितनी बड़ी भूमिका है, बिहार के लोगों ने कितनी सेवा की है. हमें तो आश्चर्य लगता है कि ऐसी बात लोग कैसे बोल देते हैं. इसके साथ जब सीएम नीतीश से कहा कि जब चन्नी ने यह बयान दिया तो उस समय प्रियंका गांधी भी मौजूद थीं तो इस पर चन्नी ने कहा कि छोड़िए इन सब को. सीएम चन्नी के इस बयान को लेकर काफी चर्चा हो हो रही माना जा रहा कि पंजाब विधानसभा चुनाव में यह बयान कांग्रेस के लिए गलत भी साबित हो सकता है.

बता दें कि हाल ही में एक रोड़ शो के दौरान पंजाब की सीएम चन्नी ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की मौजूदगी में कहा था कि पंजाबियों की बहू है प्रियंका गांधी. यह पंजाबन है। इसलिए एक तरफ हो जाओ पंजाबियों... यूपी, बिहार और दिल्ली के भइये आके यहां राज करना चाहते हैं. हमें उन्हें घुसने नहीं देना है. माना जा रहा है कि चन्नी का यह बयान दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए था. हालांकि चन्नी के इस बयान पर कांग्रेस को काफी आलोचना झेलनी पड़ रही है.

पंजाब के CM पर बरसे नरोत्तम मिश्रा- 'जाम लगवाना और खुलवाना, दोनों चन्नी के नियंत्रण में'

वहीं चन्नी के इस बयान पर बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि जिस तरह से चरणजीत सिंह चन्नी ने बिहारियों को गाली और धमकी दी है इस बात पर बिहारी कांग्रेस को कभी माफ नहीं करेंगे. पंजाब के मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता चरणजीत सिंह चन्नी ने बिहार-यूपी के लोगों को राज्य में घुसने न देने की जो अपील की, वह बेहद आपत्तिजनक और निंदनीय है. बिहार और यूपी के लोगों ने पंजाब में आना बंद कर दिया तो फैक्ट्रियां बंद हो जाएंगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें