लॉकडाउन लगाकर बोले CM नीतीश- कुछ समय के लिए शादियां टाल दें बिहारवासी

Smart News Team, Last updated: Wed, 5th May 2021, 7:57 PM IST
  • नीतिश कुमार ने पूरे प्रदेश में 5 मई से 15 मई तक कंप्लीट लॉकडाउन लगा दिया है. सरकार ने अधिकारियों को सख्त आदेश दिया है की प्रदेश में लगे लॉकडाउन का पालन करना सुनिश्चित करें, और संभव हो तो इस लॉकडाउन में होने वाली शादियों को स्थगित कर दें जिससे की कोरोना संक्रमण के फैलाव पर विराम लगे.
लॉकडाउन लगाकर बोले CM नीतीश- कुछ समय के लिए शादियां टाल दें बिहारवासी

पटना: बिहार में बढ़ते कोरोना मामलों के मद्देनजर सीएम नीतिश कुमार ने पूरे प्रदेश में 5 मई से 15 मई तक कंप्लीट लॉकडाउन लगा दिया है. सरकार ने अधिकारियों को सख्त आदेश दिया है की प्रदेश में लगे लॉकडाउन का पालन करना सुनिश्चित करें, और संभव हो तो इस लॉकडाउन में होने वाली शादियों को स्थगित कर दें जिससे की कोरोना संक्रमण के फैलाव पर विराम लगे. इससे संबंधित मुख्यमंत्री नीतिश कुमार ने एक ट्वीट किया और लिखा- 'कोरोना महामारी से लोगों की सुरक्षा के लिए राज्य सरकार तत्परता के साथ जरूरी कदम उठा रही है. कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए जनहित में आज से 15 मई तक लॉकडाउन लगाने जैसा कठिन निर्णय भी लेना पड़ा है. कृपया गाइडलाइंस का पालन कर कोरोना से मुक्ति के प्रयास में सहयोग करें.'

कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने वाला अनुरोध करते हुऐ मुख्यमंत्री ने बिहारवासियों को संबोधित करते हुऐ लिखा, 'कोरोना से उत्पन्न अभूतपूर्व संकट की घड़ी में प्रदेशवासियों से आग्रह है कि शादी-विवाह जैसे खुशी के सामाजिक आयोजन, जिनमें कई जगहों के लोग जुटते हैं, को यदि कुछ समय के लिए स्थगित कर दें, तो कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ने में मदद मिलेगी. यह आपके परिवार और समाज के हित में होगा.'

 

बिहार लॉकडाउन: बैंड-बाजा-बारात के बिना शादी, 3 दिन पहले थाने में देनी होगी सूचना

लॉकडाउन के नियमों का सख्ती से हो पालन

बिहार के मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराएं. लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन नहीं करे. मुख्य सचिव ने कहा कि लॉकडाउन की गंभीरता को सभी समझें. इसे ध्यान में रखते हुए आवश्यक कार्रवाई करें. इसको देखते हुए अपने अधीनस्थ अधिकारियों को सभी डीएम दिशानिर्देश जारी करें. मुख्य सचिव ने यह भी साफ किया है किसी भी जरूरतमंद को ई-पास लेने में कोई दिक्कत न हो, सुगमता से यह निर्गत हो, इसे सभी डीएम सुनिश्चित करेंगे.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें