CM नीतीश की चेतावनी, बोले बिहार में शुरू हो चुकी है कोरोना की तीसरी लहर, बढ़ी सख्ती

Indrajeet kumar, Last updated: Wed, 29th Dec 2021, 3:31 PM IST
  • देश भर में बढ़ रहे कोरोना के नए ओमीक्रॉन वेरिएंट के बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का बड़ा बयान सामने आया है. सीएम ने कहा है कि बिहार में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है. मुख्यमंत्री का बयान ऐसे समय में आया है जब राज्य में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना के 47 नए मामले सामने आए हैं.
CM नीतीश की चेतावनी, बोले बिहार में शुरू हो चुकी है कोरोना की तीसरी लहर

पटना. कोरोना का नए वेरिएंट ओमीक्रॉन के मामले पूरे देश में तेजी से बढ़ रहे हैं. इसी बीच बिहार के सीएम नीतीश कुमार का बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने कहा है कि बिहार में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है. मुख्यमंत्री का बयान ऐसे समय पर आया है जब राज्य में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना के 47 नए मामले सामने आए हैं. मुख्यमंत्री ने मंगलवार को आईएमए के अधिवेशन को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में में कोरोना महामारी की तीसरी शुरू हो चुकी है. लोगों को इसे बचाने के लिए सरकार के तरफ से जरूरी इंतजाम किए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि पहली और दूसरी लहर में डॉक्टरों का योगदान सराहनीय रहा मुख्यमंत्री ने डॉक्टरों का अभिनंदन भी किया. वहीं विशेषज्ञों का कहना है कि ओमीक्रॉन वेरिएंट देश में तीसरी लहर का कारण बनेगा.

करोना के मद्देनजर बिहार में भी सख्ती

ओमीक्रॉन खतरे वह देखते हुए बिहार सरकार ने 31 दिसंबर से 2 जनवरी तक राज्य के सभी पार्क चिड़ियाघर को पूरी तरह से बंद रखने का फैसला लिया है. मंगलवार शाम गृह विभाग ने इस बाबत आदेश जारी कर दिया है. गृह विभाग के जारी आदेश में कहा गया है कि ओमीक्रॉन संक्रमण के फैलाव और नए साल की पूर्व संध्या में होने वाले आयोजनों और सार्वजनिक स्थानों संभावित भीड़ को रोकने के लिए क्या निर्णय लिया गया है इससे पहले हैं.

25 दिसंबर को सीएम ने सख्ती लागू करने से किया मना

25 दिसंबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने देश में ओमीक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच बिहार में प्रतिबंध लागू करने की संभावना से इनकार किया था. जबकि ओमीक्रॉन वेरिएंट के कारण पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश में नाइट कर्फ्यू दोबारा लागू किया गया था. सीएम नीतीश ने कहा था कि बिहार में अभी कोविड प्रतिबंध की कोई जरूरत नहीं है.

कोरोना लॉकडाउन से बच्चे बढ़े तो शादी में भी आई दरार, पटना के थानों में 2323 केस

अब तक बिहार में एक भी ओमीक्रोन केस नहीं

राज्य में अब तक कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन की पुष्टि नहीं हो पाई है. हालांकि कोरोना के बढ़ रहे मामलों के बीच सैंपल को लगातार जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा जा रहा है. वही डॉक्टर नए कोरोना मरीजों का इलाज डेल्टा डेल्टा प्लस वेरिएंट मानकर कर रहे हैं. राज्य के कई जिलों में महीनों बाद कोविड-19 मामले मिल रहे हैं.

शराबबंदी पर बोले CM नीतीश- अब शाम में शराबी नहीं एक पिता और पति घर आता है

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें