बिहार में बक्सर के बाद अब पटना में गंगा में तैरते दिखे कोरोना मृतकों के शव

Smart News Team, Last updated: Thu, 13th May 2021, 6:02 PM IST
  • कोरोना से मरे लोगों के शव को जमीन में दफनाने से लेकर नदियों में बहाने की खबरों के बीच अब बिहार की राजधानी पटना में गंगा में तैरते शव दिखे जिसमें कम से कम एक डेड बॉडी पीपीई किट में है. नगर निगम के कर्मचारियों ने घाट से एक युवक और तीन साल के बच्चे का शव निकालकर दाह संस्कार किया. 
पटना के गुलबी घाट पर गंगा में तैरती नजर आए शव. (फोटो- वीडियो स्क्रीनशॉट)

पटना. बिहार के बक्सर में गंगा में दर्जनों तैरते शव मिलने के बाद अब राजधानी पटना में गंगा में कुछ शव नजर आए हैं जिनमें कम से कम एक शव ऐसा दिखा है जो पीपीई किट में है. ऐसा लगता है कि अस्पताल से कोरोना प्रोटोकॉल के तहत इलाज के दौरान मौत के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया लेकिन उन्होंने दाह संस्कार करने के बदले शव को गंगा में प्रवाहित कर दिया. नगर निगम के कर्मचारियों ने पीपीई किट पहने युवक के शव और 3 साल के बच्चे का गुलाबी घाट से निकालकर अंतिम संस्कार भी किया है.

पटना में गंगा में आज दो से तीन शव तैरते हुए दिखाई दिए जो गुलाबी घाट किनारे पर भी लग गए. आवारा कुत्ते उन्हें अपना शिकार बना रहे थे. प्रशासन को नदी में तैर रहे शवों की खबर भी दी गई थी. जिसके बाद नगर निगम के कर्मियों ने एक युवक और बच्चे का दाह संस्कार करवाया है.

पटना के गुलबी घाट के पास शाम की सैर करने गए लोगों की नजर इन शवों पर पड़ी और फिर बात धीरे-धीरे फैली. अनुमान ये भी लगाया जा रहा है कि कोरोना से बीमार होने के बाद घर पर ही इलाज करा रहे लोगों की मौत के बाद परिजनों ने शव को गंगा में बहा दिया है.

गंगा में इस समय पानी काफी कम है और जो पानी है उसमें धार यानी करंट नहीं है जिस वजह से नदी में बहाए जा रहे शव किनारे लग जा रहे हैं. पटना के गुलबी घाट पर किनारे लगे और सामने नदी में तैर रहे शवों से आस-पास के लोगों में सरकारी इंतजाम को लेकर एक बार फिर गुस्सा नजर आ रहा है. शवों को गंगा नदी में प्रवाहित करने से लोग खास तौर पर नाराज दिखे.

बक्सर: गंगा से अब तक मिले 83 शव, यूपी की सीमा पर लगाए गए महाजाल

गंगा में शव मिलने पर लालू ने सरकार पर साधा निशाना, JDU-BJP ने किया पलटवार

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें