जल्द मिलेगी खुशखबरी? पटना एम्स में 7 लोगों को दी गई कोरोना वैक्सीन की पहली डोज

Smart News Team, Last updated: 17/07/2020 06:15 PM IST
  • गुरुवार को पटना एम्स में सात लोगों को कोरोना वायरस वैक्सीन की पहली डोज दी गई। इससे पहले ट्रायल के लिए अब तक आठ लोगों को इसकी डोज दी जा चुकी है।
Coronavirus Vaccine news

कोरोना वायरस कहर के बीच राजधानी पटना से राहत की खबर है। पटना एम्स में कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने का ट्रायल जारी है। गुरुवार को पटना एम्स में सात लोगों को कोरोना वायरस वैक्सीन की पहली डोज दी गई। इससे पहले ट्रायल के लिए अब तक आठ लोगों को इसकी डोज दी जा चुकी है और अभी कम से कम और 50 लोगों पर इसका ट्रायल होना बाकी है। अगर पटना एम्स में कोरोना वायरस वैक्सीन का ट्रायल सफल रहा तो संभवत: 15 अगस्त तक लॉन्च कर दी जाएगी।

अच्छी खबर: पटना एम्स में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल सोमवार से शुरू,18 लोगों का चयन

इस बाबत पटना एम्स के अधीक्षक डॉ. सीएम सिंह ने कहा, 'जिन लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई है, उन्हें 14 दिन बाद दूसरी डोज दी जाएगी। 28वें दिन वैक्सीन के असर का अध्ययन होगा। इसमें यह देखा जाएगा कि वैक्सीन के कारण किस मरीज में कितना एंटीबॉडी विकसित हुआ है। इसके बाद मरीजों पर हुए ट्रायल और उसके पूरे अध्ययन की रिपोर्ट आईसीएमआर को भेजी जाएगी।

कोरोना से ये कैसी लड़ाई? 3 दिन तक अस्पतालों का चक्कर लगा जिंदगी की जंग हार गया 

देश में कोरोना के कहर को रोकने के लिए आईसीएमआर की देखरेख में भारत बायोटेक ने कोरोना की वैक्सीन विकसित की है। ट्रायल सफल होने पर इसे 15 अगस्त तक लॉन्च की जाएगी।'

दरअसल, कोरोना वायरस संकट से निपटने के लिए पूरी दुनिया में वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। भारत में भी अलग-अलग फेज में इसका ट्रायल चल रहा है। कोरोना वैक्सीन का ट्रायल पटना एम्स समेत देश के 13 संस्थानों में सात जुलाई से ही शुरू है।

कोरोना काल में अच्छी खबर: पटना AIIMS में आज से कोविड-19 की वैक्सीन का ट्रायल

पटना एम्स में 18 से 55 साल के लोगों को ट्रायल के लिए आमंत्रित किया गया है। अस्पताल के अधीक्षक ने बताया कि बुधवार को जिसे वैक्सीन दी गई थी, वे पूरी तरह से स्वस्थ हैं। उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं हुई।

अन्य खबरें