पटना को स्मार्ट बनाने के लिए निगम की नई कोशिश, घरों में लगाए जाएंगे QR कोड

Smart News Team, Last updated: 07/03/2021 05:34 PM IST
  • लोगों के घरों से कूड़ा उठाने के काम में पारदर्शिता लाने के लिए पटना नगर निगम की ओर से घरों से क्यूआर कोड से लैस कार्ड लगाए जा रहे हैं. इसके साथ ही एक एप भी बनाया जा रहा है जिसके जरिए लोग अपने सेक्टर के कचरा गाड़ी के लोकेशन की जानकारी ले सकेंगे.
पटना को स्मार्ट सिटी बनाने की परियोजनाओं को मंजूरी.

पटना. स्मार्ट सिटी योजना के तहत राजधानी को स्मार्ट बनाने के लिए पटना नगर निगम की ओर कई कदम उठाए जा रहे हैं. इसी कड़ी में घरों से कचरा उठाने के काम में पारदर्शिता लाई जाएगी. इसके लिए निगम की ओर से एक विशेष क्यूआर कोडो लोगों के घरों में लगाया जाएगा. गौर हो कि राजधानी के करीब ढाई लाख घरों में क्यूआर कोड लगाया जाना है और यह काम शुरू हो चुका है लेकिन इस काम की गति काफी धीमी है.

परियोजना के अतर्गत पटना नगर निगम क्षेत्र में कर देने वाले सभी घरों के बाहर सफेद रंग का क्यूआर कोड लेस कार्ड लगाया जाएगा. कोड स्कैन करने पर संबंधित होल्डिंग से कचरा उठाव की जानकारी निगम को प्राप्त हो जाएगी. उल्लेखनीय है कि पटना के घर-घर में स्मार्ट सिटी लिमिटेड की इंटेलिजेंट सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट परियोजना के तहत क्यूआर कार्ड लगाया जाएगा और इससे शहर के कूड़ा निस्तारन के काम में पारदर्शिता आएगी. अब तक शहर के 35 हजार घरों में क्यूआर कोड लगाया गया है. 

पटना: शव यात्रा में हो रही फायरिंग में गोली लगने से आठ साल के बच्चे की मौत

राजधानी के जिन वार्डों के घरों में अभी क्यूआर कार्ड लगाना बाकी है वहां के सफाई निरीक्षकों की ओर जल्द यह काम पूरा किया जाएगा. इसके बाद कूड़ा उठाते समय सफाई निरीक्षक या सफाई पर्यवेक्षक घरों पर लगे क्यूआर कोड को स्कैन करेगा. कोड स्कैन होती ही पटना नगर निगम के कंट्रोल रूम में संबंधित घर से कचरा उठाने की जानकारी पहुंच जाएगी. इसके साथ ही सफाई कर्मियों की भी बायोमेट्रिक अटेंडेंस के इंतजाम किए गए हैं. एक एप भी तैयार किया जा रहा है जिसके तहत लोग अपने सेक्टर की कचरा गाड़ी की लोकेशन की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें