पटना

कोरोना काल में सुशासन बाबू की राजधानी का हाल- पटना एयरपोर्ट पर कूड़ा बने PPE किट

Smart News Team, Last updated: 24/06/2020 12:04 PM IST
  • पटना के जय प्रकाश नारायण अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट परिसर के पार्किग एरिया में सैंकड़ों की संख्या में पीपीई किट्स कूड़े की तहत सड़कों पर बिखरे पड़े हैं।
बाईं तरफ फोटो- कूड़े के ढेर की तरह पड़ी पीपीई किट्स

पटना. बिहार में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार इजाफा है। लेकिन शायद सरकार अभी भी कोविड-19 को लेकर गंभीर नजर नहीं आ रही। इसका ताजा उदाहरण राजधानी पटना के एयरपोर्ट पर देखने को मिला जहां परिसर के अंदर ही सैंकड़ों की तादाद में पीपीई किट को कूड़े की तरह फेंक दिया गया है। जहां एक तरफ बिहार के अस्पतालों और जरूरी जगहों पर पीपीई किट की व्यवस्था तक नहीं है, वहां एयरपोर्ट पर ऐसा नजारा काफी दुखद है।

गौरतलब है कि सैंकड़ों की तादाद में सड़कों पर पड़ी पीपीई किट्स एयरपोर्ट परिसर के पार्किंग एरिया में हैं। खबरों की मानें तो एयरपोर्ट प्रशासन ने यह बात कहते हुए अपना पल्ला झाड़ लिया है कि जो यात्री हवाई यात्रा तय करके आते हैं उन्हें प्लेन में पीपीई किट और फेस शील्ड व मास्क दिया जाता है। ऐसे में एयरपोर्ट से बाहर निकलते ही यात्री अपनी पीपीई किट और फेस शील्ड फेंक जाते हैं।

अब एयरपोर्ट प्रशासन ने तो सफाई दे दी लेकिन ये नहीं बताया कि परिसर के अंदर सफाई कर्मचारी कहां मौजूद रहते हैं जो कोरोना काल में सड़कों पर पड़ी पीपीई किट या ऐसे संबंधित सामान को कूड़ेदान तक में नहीं फेंक सकते। एयरपोर्ट पर पीपीई किट्स का पड़ा होने के लिए सिर्फ यात्री नहीं एयरपोर्ट प्रशासन की लापरवाही भी जिम्मेदार है जो नीतीश कुमार सरकार पर भी सवाल खड़ा करती है।

अन्य खबरें