पटना AIIMS में सफल रहा कोरोना वैक्सीन ट्रायल का पहला चरण, दूसरे चरण की शुरुआत

Smart News Team, Last updated: 10/09/2020 08:46 AM IST
  • भारत में कोरोना वैक्सीन बना रही हैदराबाद की भारत बायोटेक और आईसीएमआर ने अपने वैक्सीन का पहला चरण पूरा कर लिया है और वह पूरी तरह सुरक्षित रहा है. अब पटना एम्स में इसके दूसरे चरण के ट्रायल की प्रक्रिया शुरू हो गई है.
पटना एम्स में कोरोना वैक्सीन के दूसरे चरण का ट्रायल शुरू हो गया है.

पटना. पटना एम्स में कोरोना वैक्सीन के दूसरे चरण का ट्रायल शुरू हो गई है. इस प्रक्रिया के लिए अब वॉलेंटियर्स को आमंत्रित किया गया है. भारत में कोरोना वैक्सीन बना रही हैदराबाद की भारत बायोटेक और आईसीएमआर ने अपने वैक्सीन का पहला चरण पूरा कर लिया है और वह पूरी तरह सुरक्षित रहा है. इसके पहले चरण में वैक्सीन का ट्रायल कुल 50 लोगों पर किया गया था. पहले चरण में वैक्सीन का कोई भी विपरित असर देखने को नहीं मिला.

बेकरी की आड़ में बनाता था फर्जी रेल टिकट, 22 लाख की टिकटों के साथ दलाल गिरफ्तार

इस बारे में एम्स अधीक्षक डॉ. सीएम सिंह ने बताया कि वैक्सीन के दूसरे चरण के ट्रायल के लिए एक बार फिर वॉलेंटियर्स को आमंत्रित किया जा रहा है. जो लोग इसके इच्छुक हैं वह रजिस्ट्रेशन कराने और अधिक जानकारी के लिए मोबाइल संख्या 7471408832 पर संपर्क कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि वॉलेंटियर करने वालों का सबसे पहले स्वास्थ्य जांच की जाएगी. इसमें अगर जिनका शरीर ट्रायल के अनुकूल पाया जाता है तो ही वैक्सीन का पहला डोज दिया जाएगा. पहला डोज देने के बाद फिर उनके शरीर के एंटीबॉडी का अध्ययन किया जाएगा और रिपोर्ट आईसीएमआर को भेजी जाएगी.

पटना में 9 बजे 9 मिनट बत्ती गुल करके बेरोजगारी के खिलाफ हुआ विरोध, देखें फोटो

सूत्रों के अनुसार वैक्सीन के पहले चरण में दिए गए डोज का परीक्षण लगभग सफल रहा है. ऐसे में, अगर दूसरा ट्रायल भी सफल रहता है तो भारत में जल्दी ही कोरोना की वैक्सीन आ सकती है. बता दें कि आईसीएमआर ने एम्स पटना सहित देश के 13 संस्थानों को वैक्सीन के ट्रायल के लिए चुना है. इसमें भी पटना एम्स में सबसे पहले ट्रायल शुरू किया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें