पटना

पटना में हैवानियत की हद पार, 14 साल की बच्ची से 2 दिनों तक होता रहा गैंगरेप

Smart News Team, Last updated: 20/06/2020 09:07 PM IST
  • कोरोना संकट के बीच पटना में एक बच्ची से बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मनेक के व्यापुर गांव में मनचलों ने 14 साल की लड़की का बलात्कार किया है।
Rape Generic Photo

कोरोना संकट के बीच पटना में एक बच्ची से बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मनेक के व्यापुर गांव में मनचलों ने 14 साल की लड़की का बलात्कार किया है। दरअसल, गांव से सटे बांध के उत्तर एक भट्ठे पर बीते बुधवार की रात मनचलों ने चौदह साल की नाबालिग के साथ दो दिनों तक दुष्कर्म किया। लड़की को बदमाशों ने बंधक बनाकर रखा था और उसका बार-बार रेप कर रहे थे। मौका मिलते ही शुक्रवार को नाबालिग किसी तरह दानापुर थाने पहुंची और पुलिस को घटना की जानकारी दी।

ईंट भट्ठे पर लड़की से गैंगरेप

घटना की जानकारी मिलते ही हरकत में आई पुलिस ने एएसपी के नेतृत्व में ताबड़तोड़ छापेमारी कर सोना ईंट भट्ठे से महिला रेणु कुमारी, पिंटू उरांव, बासु उरांव व राजेंद्र उरांव को गिरफ्तार किया। वहीं, पुलिस ने इस मामले में पीड़िता के बयान पर भट्ठा मालिक के पुत्र व मनेर प्रखंड के पूर्व प्रमुख के पति चंदन कुमार, रेणु कुमारी, पिंटू उरांव, बासु उरांव,राजेंद्र उरांव व दो अज्ञात लोगों को नामजद बनाते हुए पॉस्को और आईपीसी की धारा के तहत मामला दर्ज किया है।

झारखंड की रहने वाली है पीड़िता

मिली जानकारी के मुताबिक, नाबालिग पीड़िता मूल रूप से झारखण्ड की रहने वाली है। बीते दिनों किसी तरह भटककर ब्यापुर पहुंच गई थी। ब्यापुर बाजार की ईंट भट्ठे पर रहने वाली रेणु कुमारी नाबालिग पीड़िता को अपने साथ भट्ठे पर लेकर चली गई और अपने साथ रखी हुई थी।

पुलिस ने कुछ आरोपियों को गिरफ्तार किया

पुलिस को दिए बयान में पीड़िता ने कहा कि रेणु कुमारी के कहने पर आरोपियों ने रेप की वारदात को अंजाम दिया है। थाना प्रभारी मुकुल रंजन सिंह ने कहा कि कुछ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और बाकी बचे आरोपियों को भी गिरफ्तार करने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

अन्य खबरें