दरभंगा ब्लास्ट केस: यूपी के शामली से अरेस्ट दो ओर आतंकी को लेकर पटना पहुंची NIA

Smart News Team, Last updated: Sat, 3rd Jul 2021, 12:40 PM IST
  • राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए दरभंगा स्टेशन ब्लास्ट केस में यूपी के शामली से गिरफ्तार सलीम अहमद और मो कफील को लेकर शनिवार को पटना पहुंच गई है. दोनों आंतकी दरभंगा स्टेशन ब्लास्ट मामले में संदिग्ध है.
दरभंगा ब्लास्ट केस में संदिग्ध सलीम अहमद और मो कफील को पटना लेकर पहुंची जांच एजेंसी टीम.( फाइल फोटो )

पटना. दरभंगा स्टेशन ब्लास्ट केस में यूपी के शामली से गिरफ्तार दो आतंकवादी सलीम अहमद और मो कफील को कड़ी सुरक्षा के बीच दिल्ली से इंडिगो की फ्लाइट से पटना लाया गया है. सीआईएसएफ, एटीएस और एनआईए के अधिकारियों की कड़ी सुरक्षा में आतंकियों को एयरपोर्ट परिसर से बाहर लेकर आए. जानकारी के अनुसार, दोनों आतंकियों को दो तीन दिन पहले गिरफ्तार किया गया था. एनआईए की टीम एक दिन पहले दोनों को लखनऊ से दिल्ली लेकर पहुँची थी.

शनिवार की सुबह राष्ट्रीय जांच एनआईए के अधिकारी दोनों आंतकवादियों को लेकर पटना पहुंची. इंडिगो के विमान संख्या 6 ई 5003 से शनिवार सुबह 8:54 बजे दिल्ली से उड़ान भरी, जिसके बाद विमान 10:35 बजे पटना एयरपोर्ट पर लैंड किया. विमान के पटना एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद सबसे पहले सुरक्षा घेरे में इन आतंकियों को उतारा गया. इन दोनों को परिसर से बाहर लाने के बाद ही बाद में इस विमान के बाकी यात्रियों को उतरने की इजाजत दी गई.

दरभंगा ब्लास्ट केस में अरेस्ट दोनों भाई पटना लाए गए, NIA को 7 दिन की रिमांड मिली

एनआईए की टीम कल यानि शुक्रवार को तेलंगाना से अरेस्ट किए गए दो भाई मोहम्मद इमरान मलिक और मोहम्मद नासिर मलिक को कड़ी सुरक्षा में हवाई जहाज से पटना लेकर पहुंची थी. सूत्रों के अनुसार, गिरफ्तार किये गए सभी लोग 17 जून को दरभंगा रेलवे स्टेशन पर हुए पार्सल ब्लास्ट केस में संदिग्ध हैं. सूत्रों के मुताबिक सभी का संबंध आतंकी संगठन लश्कर-ए-तय्यबा यानी एलईटी से है. तेलंगाना से अरेस्ट किए गए आंतकवादियों को कल एनआईए कोर्ट में पेश किया गया, जहां कोर्ट ने दोनों की सात दिन की रिमांड पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी को दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें