कोरोना मृतकों का अंतिम संस्कार करेगी पटना की डेड बॉडी मैनेजमेंट कमेटी

Smart News Team, Last updated: 24/07/2020 11:33 AM IST
  • पटना जिला प्रशासन ने डेड बॉडी मैनेजमेंट कमेटी गठित की है. ये कोरोना से मरने वालों का अंतिम संस्कार करवाएगी. इसके लिए अस्पतालों के साथ जुड़ा जाएगा.
कोरोना मृतकों का अंतिम संस्कार करेगी पटना की डेड बॉडी मैनेजमेंट कमेटी

पटना में कोरोना के केस तेजी से फैल रहे हैं. डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना मरीजों या मृतकों के संपर्क में आने से भी ये फैल रहा है. ऐसे में परिजनों को मृतक को सौंपा ना जाए इसके लिए कोरोना से मरे लोगों का सुरक्षित अंतिम संस्कार पटना जिला प्रशासन की टीम करवाएगी. प्रशासन ने डेड बॉडी मैनेजमेंट कमेटी गठित की है, जो पटना के सभी अस्पतालों पर नजर रखेगी.

नहीं चलेगी निजी अस्पतालों की मनमानी, डीएम तय करेंगे कोरोना इलाज का शुल्क

दरअसल, कोरोना के फैलने के डर से कोरोना से मरे लोगों के अंतिम संस्कार में समस्या आने की शिकायतें आई हैं. इसी के बाद फैसला लिया गया कि ये कार्य प्रशासन को सौंपा जाए. बेहद मुश्किल में शव श्मशान घाट ले जाकर जलाए जा रहे हैं. संक्रमित के अंतिम संस्कार के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी कर रखी है.

पटना: NMCH अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय

शव से भी संक्रमण का खतरा रहता है, इसीलिए उसे सुरक्षित रखने तथा श्मशान तक ले जाने के लिए प्रशासन उचित प्रबंध करेगा. डीएम कुमार रवि ने बताया कि डेड बॉडी मैनेजमेंट कमेटी मुख्य रूप से कोरोना के विशेष अस्पतालों पर नजर रखेगी. अस्पताल प्रबंधन से मृतकों की सूची लेगी. इसके बाद अधिकारियों या नगर निगम कर्मियों की देखरेख में शव का अंतिम संस्कार किया जाएगा. कमेटी में जिला प्रशासन के साथ-साथ नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों व कर्मियों को शामिल किया गया है.

एनआरएचएम स्वास्थ्य कर्मियों ने वापस ली हड़ताल, मांग पर विचार के लिए कमेटी का गठन

पटना सिटी में कोरोना से मरने वाले एक व्यक्ति के दो पुत्रों ने अंतिम संस्कार में हुई परेशानी को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया था. वहीं एनएमसीएच से भी शिकायत मिल रही थी कि स्वास्थ्य कर्मी घंटों शव नहीं उठाते. इसी से निपटने के लिए ये कदम उठाया गया है.

अन्य खबरें