कोटा से IIT खड़गपुर पहुंचा इंजीनियरिंग छात्र दिल्ली की 50 लड़कियों को ब्लैकमेल करने में अरेस्ट

Nawab Ali, Last updated: Fri, 8th Oct 2021, 1:16 PM IST
  • IIT खड़गपुर में पढ़ने वाले छात्र को पुलिस ने पटना से गिरफ्तार कर लिया है. छात्र पर 50 लड़कियों को ब्लैकमेल करने के आरोप हैं. दिल्ली के स्कूल की टीचर और छात्राओं का आरोप है कि ये पटना में रहने वाला छात्र ऑनलाइन लड़कियों को ब्लैकमेल कर रहा था. पुलिस ने बताया, आरोपी 10वीं और 12वीं क्लास में टॉपर रह चुका है.
छात्राओं को ब्लैकमेल करने वाला आरोपी IIT छात्र गिरफ्तार. प्रतीकात्मकफोटो

पटना. दिल्ली के एक नामी स्कूल की छात्राओं और टीचर को ब्लैकमेल करने वाले लड़के को पुलिस ने पटना उसके घर से गिरफ्तार कर लिया. ये लड़का आईआईटी खड़गपुर का छात्र है. आरोपी महावीर को पुलिस ने पटना से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया है कि आरोपी महावीर दिल्ली सिविल लाइन्स में स्थित एक नामी स्कूल की 50 से ज्यादा छात्राओं और टीचर को ब्लैकमेल कर रहा था. इसकी जानकारी स्कूल प्रशासन को हुई तो उन्होंने शिकायत दर्ज करवाई और तहरीर में कहा कि आरोपी स्कूल की ऑनलाइन क्लास में घुस जाता था और छात्राओं या टीचर वाले व्हाट्सएप ग्रुप में प्रोफाइल लोगो और अन्य सेटिंग में बदलाव कर देता था. तहरीर के आधार पर साइबर सेल के प्रभारी एसआई रोहित सारस्वत मामले की जांच में जुटे थे.

पुलिस को जांच में पता चला कि महावीर साल 2018 में कोटा में कोचिंग करने गया था जहां पर उसकी मुलाकात दिल्ली के सिविल लाइन्स स्थित स्कूल की एक पूर्व छात्रा से हुई. उसी के बाद महावीर ने उसी स्कूल की अन्य छात्राओं को सोशल मीडिया पर ढूंढा और उनसे बात करनी शुरू की. लड़कियों से बात होने के बाद उसने कई छात्राओं की अश्लील फोटो बनाई और उन्हें ब्लैकमेल किया. महावीर स्कूल की ऑनलाइन कलास के लिंक मंगाकर उसमें आवाज बदलने वाले एप्प के जरिये छात्राओं और टीचर को परेशान कर रहा था. 

बिहार में 50 साल से ऊपर के कर्मचारियों की नौकरी पर खतरा, काम में ढीले तो रिटायर करेगी सरकार

महावीर आईआईटी खड़गपुर से धातु विज्ञान से बीटेक कर रहा है. पटना में वो अपने घर पर आया हुआ था जब पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया. मामले में दिल्ली पुलिस की डीसीपी सागर सिंह का कहना है कि आरोपी छात्र के खिलाफ सिविल लाइन्स स्थित स्कूल की तरफ से पुलिस को अगस्त महीने में शिकायत मिली थी. स्कूल ने अपनी तहरीर में बताया था कि एक अनजान शख्स ऑनलाइन कक्षाओं में अवैध तरीके से घुसकर छात्राओं को ब्लैकमेल करता था.  पुलिस को उसकी तलाश थी.

कोरियर कंपनी बनकर पुलिस ने पकड़ा

जांच के बाद पुलिस को उसके ठिकाने का पता चला. पुलिस ने पहले कोरियर कंपनी बनकर उसके पिता को फोन किया. महावीर के पिता के फोन उठाने पर पुलिस ने कहा कि उनका एक कोरियर आया है. पुलिस अधिकारी जब उसके घर पहुंचे तो पिता घर पर नहीं थे उन्होंने महावीर को फोन पर कोरियर लेने को कहा. जब महावीर कोरियर लेने घर से बाहर आया तो पुलिस ने उसे धर लिया. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें