दिल्ली पटना, यूपी बिहार का हाइवे सफर आसान, NHAI का नया कोईलवर पुल चालू

Smart News Team, Last updated: Thu, 10th Dec 2020, 1:43 PM IST
केंद्र सरकार ने बिहार के लोगों नए पुल की सौगात दी है. पुल के शुरु होने से दिल्ली से बिहार का सफर आसान हो जाएगा. केंद्र सरकार ने पुल का नाम महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह के नाम पर रखने की बात कही है.  
बिहार के लोगों को केंद्र सरकार ने दिया नए पुल का तोहफा

पटना: सड़क रास्ते दिल्ली से पटना जाने का सफर अब सुहाना होगा. बिहार के वासियों को एनएचएआई ने 158 बर्षो के बाद नए केवल पुल की सौगात दी है. गुरुवार को सिक्स लेन पुल के शुरु होने के बाद कानपुर, वाराणसी, गाजीपुर से पटना जाना आसान हो जाएगा. कोईलवर में वने पुल का उद्दाटन का केंदीय मंत्री नीतीन गडकरी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया. बता दें कि पहले लोगों को पुराने पुल से सफर करने पर जाम का सामना करना पड़ता था. जिससे लोगों को जाम के कारण कभी-कभी 24 से 28 घण्टो तक की देरी हो जाती थी.

उद्धाटन समारोह में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा, कि देश में सबसे अधिक पुल बिहार में बन रहे हैं. गडकरी ने राज्य सरकार को आश्वासन दिया कि बिहार के सड़क व पुल परियोजनाओं के लिए पैसे की कमी नहीं होने दी जाएगी. गडकरी ने केंद्रीय मंत्री आरके सिंह के सुझाव पर कोईलवर पुल का नाम महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह के नाम पर करने की भी सहमति जताई. एनएचएआई ने पुल के निर्माण को ढाई साल में पूरा करने की बात कही है.

सर्वोच्च प्रदर्शन के लिए नीतीश सरकार ने दानापुर DCLR को सम्मानित किया

बता दें, कि कोईलवर पुल के बन जाने से बाद आरा, छपरा, वाराणसी, गाजीपुर जैसे सीमावर्ती जिलों के आसपास का सफर आसान हो जाएगा. साथ ही पटना से उत्तर प्रदेश होते हुए दिल्ली जाना भी आसान होगा. पुल के निर्माण से इस मार्ग पर लगने वाले जाम से लोगों को निजात मिलेंगी. पहले को चार लेन का बनाया जा रहा था. जिससे बाद में छह लेन कर दिया.  एनएचएआई के अनुसार जल्द ही बचे कार्य को खत्म कर लिया जाएगा.

बिहार सृजन घोटला: मुख्य आरोपी अमित-प्रिया की संपत्ति गुरूवार से होगी जब्त

नीतीश का बड़ा डिजिटल स्ट्राइक, ऑनलाइन डिटेल नहीं देने पर 1462 ठेकेदार सस्पेंड

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें