पटना यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर अविनाश दास का कोरोना संक्रमण से निधन

Smart News Team, Last updated: Wed, 12th May 2021, 11:49 PM IST
  • बुधवार दोपहर प्रोफेसर दास की मौत हुई. उनके निधन की खबर से कॉलेज के शिक्षकों और छात्रों में शोक की लहर दौड़ गई. उनके साथ काम करने वाले लोग बताते हैं कि वह छात्रों के बीच काफी लोकप्रिय और शांत स्वाभाव के थे. उनकी नियुक्ति जनवरी 2012 में हुई थी. पटना विश्वविधालय में अब तक कोरोना संक्रमण से तकरीबन आधा दर्जन से अधिक शिक्षकों की मौत हो चुकी है.
स्वर्गीय दास कला एवं शिल्प महाविद्यालय के एप्लाइड डिपार्टमेंट में प्रोफेसर थे.

पटना- पटना विश्वविद्यालय के प्रोफेसर श्री अविनाश दास का निधन बुधवार को हो गया. वह कला एवं शिल्प महाविद्यालय के एप्लाइड डिपार्टमेंट में प्रोफेसर थे. बताया जा रहा है कि वह कोरोना से संक्रमित थे और बीते एक सप्ताह से वेंटिलेटर पर थे.

कॉलेज के प्रिंसिपल प्रोफ़ेसर अजय पांडेय ने बताया कि स्वर्गीय दास पटना में ही कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए थे. जिसके बाद पटना की सरकारी हॉस्पिटल और निजी हॉस्पिटल की स्थिति को देखकर वे अपने घर भुवनेश्वर चले गए थे. जहां वह एक निजी हॉस्पिटल में अपना इलाज करवा रहे थे.

बिहार में 4.95 प्रतिशत कोरोना वैक्सीन हुई बर्बाद : राज्य स्वास्थ्य मंत्रालय

मिली जानकारी के मुताबिक, बुधवार दोपहर प्रोफेसर दास की मौत हुई. उनके निधन की खबर से कॉलेज के शिक्षकों और छात्रों में शोक की लहर दौड़ गई. उनके साथ काम करने वाले लोग बताते हैं कि वह छात्रों के बीच काफी लोकप्रिय और शांत स्वाभाव के थे. उनकी नियुक्ति जनवरी 2012 में हुई थी. बता दें कि पटना विश्वविधालय में अब तक कोरोना संक्रमण से तकरीबन आधा दर्जन से अधिक शिक्षकों की मौत हो चुकी है.

जेल जाते जाते भावुक हुए पप्पू यादव, लालू और तेजस्वी से की ये खास अपील, जानें

नीतीश सरकार MBBS करने वाले डॉक्टरों को गांव में करेगी नियुक्त, देगी 65 हजार मानदेय

Ramadan 2021:बिहार, झारखंड और MP के 10 बड़े शहरों में 12 मई को रोजा इफ्तार टाइम

Happy Eid 2021: ईद के पाक त्योहार पर इन फोटो विशेज से अपनों को दें मुबारकबाद

पटना समेत बिहार के कई इलाकों में तेज हवा के साथ झमाझम बारिश, गर्मी से राहत

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें