सुशील मोदी बोले-कृषि विधेयक विरोधी किसानों को बाजारी चंगुल में फंसाना चाहते हैं

Smart News Team, Last updated: 21/09/2020 04:42 PM IST
सोमवार को बिहार के उपमुख्यमंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राजद पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कृषि विधेयक का विरोध कर राजद किसानों को फिर से बाजार समितियों के चंगुल में फंसाना चाहता है.
प्रेस कॉन्फ्रेंस करते उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं वैसे वैसे आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी बढ़ता जा रहा है. सोमवार को बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राजद पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि राजद संसद से पारित कृषि विधेयक का विरोध कर किसानों को फिर से बाजार समितियों के चंगुल में फंसाना चाहता है.

सोमवार को भारतीय जनता पार्टी ने बिहार में प्रेस कॉन्फ्रेंस रखी थी. इस दौरान सुशील कुमार मोदी ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने इस विधेयक को लाकर किसानों को अपनी इच्छा के अनुसार अपने उत्पाद बेचने बेचने की आजादी दी है.

RJD पोस्टरों से लालू यादव गायब, BJP ने की तेजस्वी की औरंगजेब से तुलना

सुशील मोदी ने कहा कि रविवार को राज्यसभा में जो कुछ भी हुआ वह बेहद ही निंदनीय है. विपक्ष के लोगों ने कल कृषि विधेयक पर राज्यसभा में हंगामा कर कोरोना के नियमों की धज्जियां उड़ाई. आरजेडी और कांग्रेस के लोग उपसभापति की कुर्सी तक पहुंच गए. उन्होंने उपसभापति हरिवंश जी को गाली और धमकी तक दी. उप मुख्यमंत्री ने कहा कि हरिवंश जी बिहार के ही नहीं बल्कि पूरे देश के वरिष्ठतम और बड़े पत्रकार हैं. उनके साथ कल जो व्यवहार किया गया उससे हर बिहारी अपमानित महसूस कर रहा है.

इसके अलावा उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत का जिक्र करते हुए भी कहा कि कांग्रेस और राजद में बिहार विधानसभा में सीबीआई जांच की मांग की थी. लेकिन ये दोगले लोग महाराष्ट्र में सीबीआई जांच का विरोध कर रहे हैं.

CM नीतीश की पीएम मोदी से मांग, बिहार बक्सर तक जोड़ी जाए दिल्ली-गाजीपुर सड़क

इसके अलावा कहा कि रघुवंश बाबू को भी राजद में अंतिम दिनों में इतना अपमानित किया कि उन्हें दुखी होकर अपने अंतिम समय में पत्र लिखने के लिए बाध्य होना पड़ा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें