पटना में डीजल से चलने वाले ऑटो पर 31 जनवरी से रोक, मगर सीएनजी किट नहीं मिल रही

Smart News Team, Last updated: Sun, 3rd Jan 2021, 1:56 PM IST
  • पटना में 31 जनवरी की आधी रात से डीजल से चलने वाले ऑटो के परिचालन पर रोक लग जाएगी. इससे पहले ऑटो ड्राइवरों को अपना ऑटो डीजल से सीएनजी में बदलवाना होगा. लेकिन, शहर में ऑटो ड्राइवरों को सीएनजी किट नहीं मिल रही है.
ऑटो (फाइल फोटो)

पटना. पटना नगर निगम के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों में 31 जनवरी की आधी रात से डीजल से चलने वाले ऑटो के परिचालन पर रोक लग जाएगी. 31 जनवरी की आधी रात से पहले इन ऑटो ड्राइवरों को अपना ऑटो डीजल से सीएनजी में बदलवाना होगा. सीएनजी से ऑटो चलने के कारण किराया सस्ता होगा और शहर में वायु प्रदूषण की कमी भी आएगी. लेकिन ऑटो ड्राइवरों को सीएनजी किट नहीं मिल रही है.

पेट्रोल और डीजल की तुलना में सीएनजी सस्ता है इसके चलते पटना के विभिन्न मार्गों पर ऑटो का किराया 2 से 3 रुपए तक कम हो जाएगा. जानकारों ने बताया कि एक लीटर पेट्रोल या डीजल से ऑटो 10 किमी की दूरी का सफर तय कर पाता है मगर सीएनजी से ऑटो 15 किमी तक चल सकता है. सीएनजी का दाम पेट्रोल की तुलना में 24.35 रुपए प्रति किलो सस्ता है, जबकि डीजल से 17.14 रुपए प्रति किलो कम है.

बिहार में लग रहे बिजली के प्रीपेड मीटरों से उपभोक्ताओं का फायदा, जानें डिटेल्स

ऑटो चालक संयुक्त संघर्ष मोर्चा के महासचिव नवीन मिश्रा ने बताया कि पटना में वर्तमान में करीब 5 हजार ऑटो सीएनजी से चल रहे हैं. करीब 13 हजार ऑटो डीजल से चल रहे हैं. वहीं करीब 10 हजार ऑटो पेट्रोल से चल रहे हैं. उन्होंने बताया कि फरवरी 2020 से लेकर अबतक करीब 150 पेट्रोल से चलने वाले ऑटो को सीएनजी में बदला गया है. डीजल से चलने वाले पुराने ऑटो को सीएनजी में बदलने के लिए शहर में सुविधा ही नहीं है.

कभी तेज हुई रफ्तार तो कभी लगा पटना सर्राफा बाजार में कीमतों पर ब्रेक

नवीन मिश्रा ने कहा कि ऑटो ड्राइवर तो चाहते है कि उनका ऑटो सीएनजी में कन्वर्ट हो जाए लेकिन सीएनजी कीट लगाने को लेकर सरकार की तरफ से कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है. ऐसे में अगर 31 जनवरी की रात से पेट्रोल-डीजल ऑटो के परिचालन पर रोक लगा तो संघ आंदोलन करेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें