मोस्ट वांटेड को शादी के मंडप से उठाने के बाद वाहवाही, अब पुलिस चंगुल से गायब

Smart News Team, Last updated: 12/12/2020 12:56 PM IST
  • अभी माना जा रहा है कि रवि गोप जमानत के बाद नेपाल भाग गया है. आईजी रेंज ने मामले पर जांच करने को कहा है और पुलिस से हुई चूक पर भी रिपोर्ट जमा करने को कहा है. बीत 6 दिसंबर को ही बिहार पुलिस की स्पैशल टास्क फोर्स ने कार्रवाई करते हुए कुख्यात और खूंखार अपराधी रवि गोप को शादी के मंडप से गिरफ्तार कर लिया था.
वांटेड अपराधी रवि गोप तीन दिन से ही जमानत लेकर फरार हो गया.(फाइल फोटो)

पटना. शादी के मंडप से गिरफ्तार किया 50 हजार का इनामी और वांटेड अपराधी रवि गोप तीन दिन से ही जमानत लेकर फरार हो गया. अभी माना जा रहा है कि रवि गोप जमानत के बाद नेपाल भाग गया है. आईजी रेंज ने मामले पर जांच करने को कहा है और पुलिस से हुई चूक पर भी रिपोर्ट जमा करने को कहा है. बीत 6 दिसंबर को ही बिहार पुलिस की स्पैशल टास्क फोर्स ने कार्रवाई करते हुए कुख्यात और खूंखार अपराधी रवि गोप को शादी के मंडप से गिरफ्तार कर लिया था.
अभी तक सुत्रों के हवाले से सूचना मिली है रवि गोप जेल से निकलने के बाद नेपाल भाग गया है. अब पुलिस भी उस तक पहुंचने के कोशिश में जुट गई है. वहीं बेऊर सह जेल अधीक्षक सत्येंद्र कुमार सिंह का कहना है कि मामले उन्हें प्रोडक्शन वारंट नहीं मिला था. गिरफ्तारी के बाद कोर्ट ने जमानत दी थी जिसके बाद उसे जेल से रिहा किया गया. मामले पर बात करते हुए आईजी रेंज संजय सिंह ने जानकारी दी है कि जमानत पर रवि गोप रिहा हुआ है. साथ ही आदेश दिया गया है कि मामले में किस स्तर पर चूक हुई है और रिपोर्ट सिटी एसपी वेस्ट से मांगी गई है.

पटना के पूर्व टाउन डीएसपी के खिलाफ होगी विभागीय कार्यवाही, गृह विभाग का आदेश

बीते 6 दिसंबर को रवि गोपा को शादी के मंडप से पुलिस की स्पैशल टास्क फोर्स ने गिरफ्तार किया था जिसके बाद रंगदारी के एक आपराधिक मामले में कोर्ट में पेश किया था. मामले पर  कोर्ट ने कार्यवाही करते हुए रवि गोप को न्यायिक हिरासत में लेते हुए फुलवारी जेल भेज दिया था. साथ ही  सूचक से समझौते के आधार पर एसीजेएम कार्ट ने आरोपी रवि गोप को जमानत दी थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें