प्रयागराज से पटना आ रहे चिनूक हेलीकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग, 20 IAF जवान बाल-बाल बचे

Nawab Ali, Last updated: Wed, 25th Aug 2021, 10:10 PM IST
  • इलाहाबाद से बिहटा जा रहे भारतीय वायु सेना के चिनूक हेलिकॉप्टर की मानिकपुर में आपात लैंडिंग कराई गई. अचानक हेलिकॉप्टर के पंखे में तकनिकी खराबी के कारण पायलट को आपात लैंडिंग करनी पड़ी है. चिनूक हेलिकॉप्टर 20 जवानों को लेकर बिहटा एयर फोर्स स्टेशन जा रहा था.
इलाहाबाद से बिहटा जा रहे वायुसेना के हेलिकॉप्टर के पंखे में अचानक खराबी के कारण मानिकपुर में आपात लैंडिंग कराई गई.

पटना. इलाहाबाद से बिहटा जा रहे एयर फोर्स के हेलिकॉप्टर की मानिकपुर में आपात लैंडिंग कराई गई. जानकारी के मुताबिक चिनूक हेलिकॉप्टर के पंखे में अचानक तकनिकी खराबी आने के कारण आपात लैंडिंग कराई गई. वायु सेना के चिनूक हेलिकॉप्टर में एयर फोर्स के 20 जवानों का दस्ता भी सवार था. पंखे में आई तकनिकी खराबी के कारण वायु सेना के 20 जवानों की जान बाल-बाल बची है. वायु सेना का हेलिकॉप्टर इलाहाबाद से बिहटा एयर फोर्स स्टेशन जा रहा था. जिसके बाद यह घटना सामने आई है. 

बुधवार शाम को भारतीय वायु सेना का चिनूक हेलिकॉप्टर दुर्घटना होने से बाल-बाल बचा है. चिनूक हेलिकॉप्टर के पंखे में अचानक तकनिकी खराबी आ गई. जिसके बाद पायलट ने हेलिकॉप्टर की आपात लैंडिंग करानी पड़ी. आपात लैंडिंग की जानकारी बक्सर जिले की पुलिस को दी गई. जिसके बाद वायु सेना के चिनूक हेलिकॉप्टर की आपात लैंडिंग मानिकपुर हाई स्कूल में कराई गई. हेलिकॉप्टर की आपात लैंडिंग में धनसोई थाना पुलिस के सहयोग से कराई गई. लैंडिंग के दौरान अच्छी बात यह रही की किसी भी तरह का कोई नुक्सान नहीं हुआ. हेलिकॉप्टर में वायु सेना के करीब 20 जवानों के दस्ते को भी किसी तरह का कोई नुक्सान नहीं हुआ है. 

पशुपति पारस का बयान- बाढ़ दैवीय प्रकोप, पीड़ितों से भी नहीं करेंगे मुलाकात, बताई ये वजह

वायुसेना के प्रयागराज में एक अधिकारी ने बताया है की करीब 20 जवानों के दस्ते के साथ हेलिकॉप्टर की बिहटा में 5 बजकर 25 मिनट पर लैंडिंग होनी थी. लेकिन पंखे में तकनिकी खराबी के कारण आपात लैंडिंग करानी पड़ी है. चिनूक हेलिकॉप्टर में वायु सेना द्वारा तकनिकी खराबी को सही कर वापस एयर फोर्स स्टेशन ले जाया जायेगा. बक्सर डीएम अमन समीर का कहना है की आपात लैंडिंग से किसी भी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ है. धनसोई थाना पुलिस को हेलिकॉप्टर की निगरानी के आदेश दिए गए हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें