मुंगेर गोलीकांड में आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज, घायलों से मिले DIG मनु महाराज

Smart News Team, Last updated: 02/11/2020 05:52 PM IST
बिहार के मुंगेर में मूर्ति विसर्जन के दौरान हुए गोलीकांड में आरोपित पुलिस कर्मियों के खिलाफ सोमवार को श्रद्धालुओं के साथ मारपीट करने और धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज किया गया. वहीं डीआईजी मनु महाराज घायलों से मिलने अस्पातल भी गए.
मुंगेर गोलीकांड में आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज

बिहार के मुंगेर जिले में 26 अक्टूबर को मूर्ति विसर्जन के दौरान श्रद्धालुओं के साथ मारपीट करने वाले पुलिस कर्मोयों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किया गया है. इन पुलिस पदाधिकरियों पर मूर्ति विसर्जन के दौरान श्रद्धालुओं के साथ मारपीट और धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज किया गया है. जिसमे मुंगेर कोतवाली के थानाध्यक्ष, कॉन्स्टेबले, सीआईएसएफ सहित घटना में शामिल अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुआ है.

मुंगेर शहर में 26 अक्टूबर की देर रात को देवी दुर्गा की मूर्ति विषर्जन के दौरान वहां मौजूद पुलिस और लोगो के बीच झड़प हो गई थी. जिसके चलते पुलिस ने फाईरिग की थी. फायरिंग के दौरान एक युवक को गोली लगने के कारण उसकी मौत मौके पर हो गई. इस झड़प में कई लोग घायल भी हुए. इस झड़प मामले में मुंगेर कोतवाली के थानाध्यक्ष्य संतोष कुमार सिंह के आवेदन पर तत्कालीन थानाध्यक्ष्य, कॉन्स्टेबल, सीआईएसएफ साहित्य अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

इस बार देर से आएगा बिहार विधानसभा चुनाव 2020 का रिजल्ट, जानिए वजह

जिनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किया है वो तत्कालीन मुफस्सिल थानाध्यक्ष ब्रजेश कुमार सिंह, तत्कालीन एसपी लिपि सिंह के निजी बॉडीगार्ड कृष्ण कुमार, कॉन्स्टेबल विजेंद्र कुमार, मोहन कुमार, विकास भारद्वाज और सीआईएसएफ के मौजूद जवानों को आरोपी बनाते हुए दर्ज हुआ है. इन सभी के ऊपर बड़ी दुर्गा के पास मूर्ति विसर्जन करने आए श्रद्धालुओं के साथ मारपीट करने और धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने का आरोप लगते हुए प्राथमिकी दर्ज हुई है.

पटना: कोरोना के 308 नए संक्रमित सामने आए, एक्टिव केसों की गिनती बढ़कर हुई 2254

इस गोलीकांड में घायल लोगो से मिलने डीआईजी मनु महाराजा अस्पताल पहुंचे और उनका हालचाल लिया. डीआईजी ने इस पुरे घटना की पूछताछ घायलों से भी की. घायलों से मिलने के बाद डीआईजी ने बताया कि गोलीकांड से संबंधित कई जानकारिया घायलों से मिली है, जिससे हमे जाँच करने में बहुत मदद मिलेगी.

पटना: पहले चरण के चुनाव के बाद ईवीएम एएन कॉलेज में जमा, 24 घंटे पैट्रोलिंग

BSUSC Recruitment 2020: असिस्टेंट प्रोफेसर पदों के लिए 2 दिसंबर तक करें अप्लाई

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें