पूर्व हवलदार परशुराम पूर्व DGP गुप्तेश्वर पर भारी, BJP से मिला बक्सर का टिकट

Smart News Team, Last updated: Thu, 8th Oct 2020, 12:15 PM IST
  • पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को जदयू से बिहार विधानसभा चुनाव में लड़ने का टिकट नहीं मिला है. वहीं बक्सर सीट से बीजेपी ने 15 साल पहले सिपाही की नौकरी छोड़ चुके परशुराम चतुर्वेदी को टिकट दिया है. 
पूर्व हवलदार परशुराम पूर्व DGP गुप्तेश्वर पर भारी, BJP से मिला बक्सर का टिकट

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव के लिए जदयू ने अपने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की है. हालांकि इसमें हाल ही में वीआरएस लेकर जदयू में शामिल हुए पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे का नाम नहीं है. पार्टी ने उन्हें किसी भी सीट पर टिकट नहीं दिया है. संभावना थी कि उन्हें बक्सर सीट या वाल्मीकि नगर सीट का टिकट मिलेगा. लेकिन ऐसा नहीं है. वहीं जदयू के साथ गठबंधन कर रही बीजेपी ने बक्सर सीट से उम्मीदवार का नाम घोषित किया है. इस सीट से 15 साल पहले सिपाही की नौकरी कर चुके परशुराम चतुर्वेदी को टिकट दिया है. 

ऐसे में सभी हैरान हैं कि पूर्व डीजीपी पर एक पूर्व सिपाही भारी पड़ गए. परशुराम चतुर्वेदी ने 15 साल पहले अपनी नौकरी छोड़ दी थी और राजनीति में आ गए थे. वो बक्सर मुफस्सिल थाने के महदा गांव के रहने वाले हैं. राजनीति में आने के बाद उन्होंने भाजपा किसान मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में रहकर इलाके में अपनी पहचान बनाई. वे प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य भी रहे.

गुप्तेश्वर पांडेय VRS लेकर भी लटके, ना बक्सर सीट मिली, ना वाल्मीकि नगर का टिकट

1987 बैच के आइपीएस अधिकारी और पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय एक बार फिर चुनाव में खड़े होने से रह गए. इससे पहले 2009 के लोकसभा चुनाव में गुप्तेश्वर पांडेय ने बीजेपी के टिकट पर बक्सर लोकसभा सीट लड़ने के लिए वीआरएस लिया था लेकिन टिकट नहीं मिला. इस बार भी उनके साथ यही हुआ है और वीआरएस लेने के बाद भी जदयू से उन्हें टिकट नहीं मिला है. 

JDU से टिकट नहीं तो गुप्तेश्वर पांडेय बोले- इस बार नहीं लड़ रहा बक्सर से चुनाव

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें