तेजस्वी आवेदन करें तो अंतरजातीय शादी का 50 हजार मिलेगा, न्योता तो रिसेप्शन में जाऊंगा: मोदी

Anurag Gupta1, Last updated: Mon, 13th Dec 2021, 10:25 AM IST
  • बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा यदि तेजस्वी के रिसेप्शन का निमंत्रण मिलता है तो जरूर जाऊंगा. लालू यादव भी मेरे बेटे की शादी में आये थे और मैं भी हर समारोह में जाता हूँ. तेजस्वी यादव ने अंतरराज्यीय विवाह करके बहुत अच्छा काम किया है.
(फाइल फोटो)

पटना. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद के बेटे तेजस्वी यादव की शादी गुरूवार को संपन्न हुई. जिसमें एक दो बाहर लोगों के अलावा बाकी सब घर के लोग मौजूद थे. अब नए साल में बिहार में रिसेप्शन होना है जिसकी तारीख अभी तय नहीं है. शादी में तो बिहार का कोई नेता मौजूद नहीं था. लेकिन उम्मीद है कि बहुभोज में सबको निमंत्रण जाए. पूर्व उप मुख्यमंत्री व भाजपा सांसद सुशील मोदी ने कहा कि यदि मुझे बहूभोज का निमंत्रण मिलता है तो जरूर जाऊंगा. लालू प्रसाद यादव भी मेरे बेटे की शादी में आए थे और मैं भी लालू जी के हर कार्यक्रम में जाता रहा हूँ.

सुशील मोदी ने कहा कि तेजस्वी यादव ने बहुत ही अच्छा काम किया. उन्होंने अन्तरजातीय विवाह कर एक अच्छा संदेश दिया है. हमने भी अन्तरजातीय विवाह किया था. अंतरजातीय विवाह करने पर सरकार प्रोत्साहन राशि देती है यदि तेजस्वी आवेदन करते हैं तो उन्होंने भी 50 हजार की प्रोतसाहन राशि दी जाएगी. जो लोग अंतर्राजातीय विवाह का विरोध करते है उनका कोई मतलब नहीं है. ये सभी बातें सुशील मोदी ने पत्रकारवार्ता में कही.

बिहार में वोट नहीं देने पर युवकों को तालिबानी सजा, थूक चटवाने का Video वायरल

क्या है अंतर्राजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना:

Bihar Antarjatiya Vivah Protsahan Yojana अंतरजातीय विवाह योजना बिहार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुरू किया था, जिससे विवाह के प्रति लोगों की सोच में बदलाव आये और लोग अंतरजातीय विवाह को प्रोत्साहन दें. अभी भी समाज में लोग अपनी जाति में विवाह करना पसंद करते है ऐसे में अंतरजातीय विवाह को प्रोत्साहन देने के लिए नीतीश कुमार ने अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना चलाई. जिसके अंतर्गत अंतरजातीय विवाह करने पर 50000 की प्रोत्साहन राशि दी जाती है. पत्रकारवार्ता में सुशील मोदी भी तेजस्वी यादव के लिए इसी राशि की बात कर रहे हैं.

बता दें आज भी लोग दूसरी जाति में शादी का विरोध करते है जिसके कारण नीतीश कुमार ने ये योजना चलाई. जिससे लोगों की सोच में बदलाव आए, बिहार सरकार ने “अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना” को शुरू किया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें