पटना: विदेश भेजने के नाम पर ठगी करने वाली कंपनी का भंडाफोड़, FIR दर्ज

Smart News Team, Last updated: 21/10/2020 11:50 AM IST
  • ऑफिस ऑफ प्रोटेक्टर ऑफ इमिग्रेंस के अधिकारी और गांधी मैदान थाने की पुलिस ने बीते सोमवार को कंपनी के एग्जीबिशन रोड स्थित गगन अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 402 में छापा मारकर इस धंधे का भंडाफोड़ किया.
क्राइम 

पटना: पटना पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है. यहां नौकरी के लिए विदेश भेजने के नाम पर बेरोजगारों से ठगी करने वाली एक कंपनी का भंडाफोड़ हुआ है. ऑफिस ऑफ प्रोटेक्टर ऑफ इमिग्रेंस के अधिकारी और गांधी मैदान थाने की पुलिस ने बीते सोमवार को कंपनी के एग्जीबिशन रोड स्थित गगन अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 402 में छापा मारकर इस धंधे का भंडाफोड़ किया. पुलिस ने छापेमारी के दौरान पृथ्वी इंटरप्राइजेज के दफ्तर से सैकड़ों पासपोर्ट, कंप्यूटर के अलावा अन्य कागजात जब्त कर लिए.

फिलहाल कंपनी के दफ्तर को सील कर दिया गया है. इसे चलाने वाले चार लोग अभी फरार बताए जा रहे हैं. उनकी तलाश जारी है. गांधी मैदान थानेदार के मुताबिक बगैर किसी रिक्यूरिंटिंग एजेंट के लाइसेंस के ही ये लोग बेरोजगारों को विदेश में नौकरी के नाम पर भेज दिया करते थे.

आखिरकार 5 साल बाद 24 को सवेरा बेगम की होगी वतन वापसी

जानकारी के मुताबिक, विदेश में नौकरी के नाम पर कंपनी में काम करने वाले संचालक बेरोजगारों से मोटी रकम वसूलते थे. ऑफिस का पूरा सेटअप था ताकि वहां आने वालों को फर्जीवाड़े का पता नहीं चल सके. पुलिस की मानें तो रिक्यूरिंटिंग एजेंट का लाइसेंस नहीं होने के कारण कंपनी जिस भी व्यक्ति को विदेश भेजती थी, उसे वहां की कंपनियां नौकरी देने से इनकार कर देती थीं. मायूस होकर बेरोजगार युवकों को खाली हाथ ही वापस आना पड़ता था.

पटना: पूर्व मध्य रेल कर्मचारी यूनियन के आह्वान पर रेल कर्मियों ने किया प्रदर्शन

बता दें कि, ऑफिस ऑफ प्रोटेक्टर ऑफ इमिग्रेंस के संरक्षी उत्प्रवासी रितेश राज के बयान पर पुलिस ने आरोपी कंपनी के खिलाफ ठगी सहित अन्य धाराओं के अंतर्गत केस दर्ज कर लिया है. दर्ज FIR में पंकज कुमार यादव, रमेश, आशीष और सुनील नामजद अभियुक्त हैं. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें