बिहार में 4 जनवरी से खुलेंगे स्कूल और कोचिंग, सोमवार को जारी होगी गाइडलाइन

Smart News Team, Last updated: Fri, 18th Dec 2020, 9:44 PM IST
बिहार सरकार के निर्देश पर चार जनवरी से स्कूल, कोचिंग संस्थानों को खोलने के लिए कहा गया है. वहीं, हर 15 दिन बाद समीक्षा कर अन्य क्लास में भी पढ़ाई शुरू हो सकती है.
बिहार में स्कूल खोलने के आदेश

पटना: महामारी के बिहार सरकार के निर्देश पर क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हुई. जिसमें लिए गए निर्णय के तहत अब पूरे बिहार में अपर क्लास के स्कूल और कॉलेज 4 जनवरी से खोले जाएंगे. बैठक में शामिल प्रदेश के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा कि 15 दिन बाद फिर समीक्षा की जाएगी. इसमें ही लोअर क्लास को खोलने का फैसला किया जाएगा. 

साथ ही बैठक में यह भी तय हुआ कि 4 जनवरी से स्कूल कॉलेज और कोचिंग सेंटर को धीरे-धीरे खोला जाएगा. वहीं, बैठक में शामिल मुख्य सचिव के मुताबिक, बोर्ड परीक्षा के मद्देनज़र नौवीं से 12वीं कक्षा खोली जाएंगी. बिहार के कॉलेजों में भी अंतिम वर्ष की कक्षाएं शुरू होंगी. फिर, 15 दिनों के बाद समीक्षा की जाएगी तो सूबे के सभी स्कूलों में अन्य कक्षाएं को भी खोलने का निर्णय लिया जाएगा. साथ ही स्कूल खुलने के बाद बच्चों के बीच मास्क का वितरण किया जाएगा. 

शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि स्कूल, कॉलेजों के 4 जनवरी से सुरक्षित संचालन को लेकर राज्य सरकार गाइडलाइन जारी करेगी. शिक्षा विभाग को इसका जिम्मा मिला है. प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि सोमवार तक गाइडलाइन.

पटना: आधी रात सड़क पर उतरे डीएम तो पेट्रोलिंग के बजाय चादर तान सोते मिली पुलिस

पिछले कई दिनों से प्रदेश में कोचिंग संचालकों और निजी स्कूल के संगठनों की ओर से स्कूल खोलने की मांग की जा रही थी. जिसे लेकर शिक्षा विभाग में कई पत्र भी दिए गए. आपको बता दें कि कोविड जैसी बड़ी महामारी फैलने के कारण अनलॉक में स्कूल, कॉलेज, कोचिंग संस्थान सबको तत्काल रुप से बंद कर दिया गया था. वहीं, सितंबर माह में केंद्र सरकार ने अनलॉक के दिशा-निर्देश जारी किए थे. साथ ही कहा था कि इसपर अंतिम फैसला राज्यों पर छोड़ा गया था.

कंगना रनौत पर बिहार में दो मामले दर्ज, RLSP नेता की छवि खराब करने का आरोप

CM नीताश कुमार के निर्देश- भूमिहीनों के लिए तैयार किए जाएं बहुमंजिले घर

लालू प्रसाद बगला शिफ्ट केस: सरकार ने जवाब के लिए मांगा समय, अगली सुनवाई 8 को

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें