पटना में सेमल के पेड़ पर उभरी महावीर की आकृति, भक्त पढ़ रहे हनुमान चालीसा

Smart News Team, Last updated: Tue, 15th Jun 2021, 9:47 AM IST
  • बिहार की राजधानी में एक पेड़ पर महावीर की आकृति उभरी है. जिसको भक्त साक्षात हनुमान का रूप मान रहे हैं. आस्था हो तो पत्थर में भी देवता हैं लेकिन ना मानो तो सारी दुनिया पत्थर है. पटना में सेमल के पेड़ पर उभरी आकृति को देख हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं. 
पटना में पेड़ पर उभरी हनुमान जी की आकृति. (फोटो- लाइव सिटीज यूट्यूब वीडियो)

पटना. मानो तो पत्थर में देवता नहीं मानो तो कुछ नहीं. यह लोगों के विश्वास और अंधविश्वास पर निर्भर करता है कि वह किसे सच मानना चाहते हैं और किसे नहीं. खबरों में कई बार सुनने को मिलता है कि शिवलिंग ने दूध पिया तो भक्त जन लाइन लगाकर दर्शन करने और शिव जी को दूध चढ़ाने पहुंच रहे हैं. आलू में गणेश जी दिख रहे हैं तो उनकी पूजा के लिए भक्त पहुंचे. ऐसे ही बिहार की राजधानी पटना में भी सेमल के पेड़ महावीर की आकृति उभरने की खबर मिली है जिसके बाद कई भक्त उनकी पूजा में जुट गए हैं.

पटना के चितकोहरा गोलंबर में सेमल के पेड़ पर हनुमान जी की आकृति उभर आई है. जिसके बाद यह बात पूरे शहर में फैलने लगी है कि बजरंगबली ने साक्षात दर्शन दिए हैं. हनुमान जी के अनोखे रूप को देखने के लिए हर मंगलवार भक्त आते हैं और राम नाम का जाप करते हुए हनुमान चालीसा पढ़ते हैं. गोलंबर से गुजरने वाले भी रुककर बजरंगबली के दर्शन करते हैं. 

खुशखबरी! UP-बिहार से वैष्णो देवी के लिए चलेगी वीकेंड स्पेशल ट्रेन, जानें डिटेल

चितकोहरा गोलंबर पर सेमल का पेड़ करीब 40 सालों से मौजूद है. पेड़ पर उभरी हनुमान जी की आकृति का पूजन भी लोग करीब 30 सालों से कर रहे हैं. आस-पास के रहने वाले लोग हर दिन उन्हें धूप-बत्ती दिखाते हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि पेड़ पर उभरी आकृति को हाल ही में पेंट किया गया है. जिससे ज्यादा-से-ज्यादा लोग भगवान के दर्शन दूर से भी कर सकें.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें