पटना में भारी बारिश, बिहार के कई जिलों में वज्रपात का अलर्ट

Smart News Team, Last updated: Wed, 28th Jul 2021, 5:19 PM IST
  • मौसम विभाग ने राजधानी पटना सहित बिहार के कई जिलों में भारी बारिश की संभावना जताई है. आज पटना में एक घंटे में 57 मिमी बारिश दर्ज की गई. मौसम विभाग के मुताबिक, आज बुधवार से अगले तीन दिनों तक पटना में जोरदार बारिश हो सकती है.
बिहार की राजधानी पटना सहित कई जिलों में भारी बारिश.

पटना: बिहार की राजधानी पटना सहित राज्य के कई जिलों में बुधवार को भारी बारिश हुई. मौसम विभाग ने बुधवार से अगले तीन दिनों तक राजधानी पटना सहित राज्य के कई जिलों में  वज्रपात (आकाशीय बिजली) के साथ जोरदार बारिश का अनुमान जताया है. बुधवार को पटना में एक घंटे में 57 मिमी बारिश दर्ज की गई. भारी बारिश के कारण पटना के कई रिहायशी इलाकों में जलजमाव हो गया. शहर के कुछ इलाकों में सड़कों में पानी भर जाने से लोगों को आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. शहर में सुबह से हो रही बारिश के कारण विधानसभा के सामने जलजमाव हो गया. इसके अलावा शहर के निचले क्षेत्रों में विभिन्न जगहों पर भी पानी भर गया. इससे लोगों को काफी परेशानी हुई.

बिहार आपदा प्रबंधन ने पटना, बेगूसराय बाढ़, लखीसराय और समस्तीपुर जिलों में भारी बारिश और आकाशीय बिजली की चेतावनी दी है. राज्य आपदा प्रबंधन ने इन जिलों में लोगों को विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी है. इन जिलों वज्रपात से जानमाल के नुकसान से बचाने के लिए आपदा प्रबंधन विभाग ने लोगों को पहले ही सतर्क कर दिया है. विभाग के अनुसार अगले तीन दिनों तक लोगों को भारी बारिश और वज्रपात से बचने की सलाह दी है.

PM Kisan योजना में छूटे किसानों का केंद्र सरकार ने बताया समाधान, इन तरीकों से करेगी रजिस्ट्रेशन

मौसम विभाग ने बिहार में अगले चार तक मध्यम और घने बादल बने रहने की भविष्यवाणी की है. विभाग के अनुसार अगले 2 से 3 दिनों तक पटना सहित राज्य के कई जिलों में बारिश की संभावना जतायी है. मौसम विभाग के मुताबिक 30 जुलाई तक लगातार भारी बारिश हो सकती है और इसके बाद बारिश में कमी आ सकती है. मौसम विभाग ने बुधवार को पटना में अधिकतम तापमान 28 डिग्री और न्यूनतम तापमान 24 डिग्री रहने का अनुमान जताया है.

UP बाराबंकी हादसे पर बिहार CM नीतीश ने जताया दुख, मृतकों के परिजनों को देंगे 2 लाख मुआवजा

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें