गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस के बाद बिहार के नए डीजीपी पर फैसला जल्द

Smart News Team, Last updated: Wed, 30th Sep 2020, 8:46 AM IST
  • बिहार में गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस के बाद नए डीजीपी की नियुक्ति जल्दी ही हो सकती है. राज्य सरकार ने यूपीएससी को 12 नामों का एक पैनल भेजा भेजा है. इन्हीं में से कोई एक बिहार के नए डीजीपी होंगे.
गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस के बाद बिहार के नए डीजीपी पर फैसला जल्द

पटना. गुप्तेश्वर पांडेय के इस्तीफा देने के बाद से ही बिहार में नए डीजीपी की तलाश शुरू हो गई थी. इस बारे में अब जल्द ही फैसला हो सकता है. इसके लिए राज्य सरकार ने एक दर्जन से ज्यादा बिहार कैडर के सीनियर आईपीएस अफसरों के नाम संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) को भेजा है. संभावना जताई जा रही है कि एक दो दिनों में डीजीपी पद पर नियुक्ति के लिए यूपीएससी राज्य सरकार को इनमें से तीन नामों की अनुशंसा करेगा. फिलहाल बिहार में गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस लेने के बाद एसके सिंघल को डीजीपी का पद भार दिया गया है.

सूत्रों के मुताबिक राज्य सरकार ने यूपीएससी को पैनल में 12 आईफईएस अफसरों के नाम भेजे हैं. इनमें से 10 डीजी रैंक में प्रोन्नत हो चुके हैं. वहीं दो नाम उन अधिकारियों के हैं, जिन्हें पद खाली नहीं होने के चलते प्रमोशन नहीं मिल सका है. 

कोरोना काल में आज पहली बार कोर्ट में सुनवाई करेंगे पटना HC के चीफ जस्टिस

बिहार कैडर में डीजी रैंक के अधिकारियों में राजेश रंजन, कुमार राजेश चंद्रा, शीलवर्धन सिंह, एएस राजन और मनमोहन सिंह केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं. वहीं दिनेश सिंह बिष्ट, अरविंद पांडेय, एसके सिंघल, आलोक राज और आरएस भट्टी बिहार में अपने पद पर हैं. इनमें 1984 बैच के राजेश रंजन सबसे सीनियर हैं. वह इसी साल 30 नवंबर को रिटायर हुए हैं. इनको छोड़कर बाकि सभी डीजी रैंक के अधिकारियों का कार्यकाल 6 महीने से अधिक है. 

गौरतलब है कि डीजीपी पर राज्य सरकार अपने मन से फैसला नहीं ले सकती है. इसके लिए यूपीएससी को भेजे गए पैनल में से जो नाम वापस राज्य सरकार को भेजे जाएंगे उन्हीं तीन नामों राज्य सरकार को अफसर की तैनाती करनी होगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें