पटना

आईआईटी पटना के छात्रों ने ऑटिज्म पीड़ित बच्चों के लिए किया शब्द एप तैयार

Smart News Team, Last updated: 01/08/2020 03:46 PM IST
आईआईटी पटना के छात्रों ने शब्द नाम का एप तैयार किया है. इसकी मदद से ऑटिज्म से पीड़ित बच्चों को शिक्षित करने में आसानी होगी.
आईआईटी पटना के छात्रों ने ऑटिज्म से पीड़ित बच्चों के लिए एप तैयार किया.

आईआईटी पटना के छात्रों ने ऑटिज्म से पीड़ित बच्चों के लिए शब्द नामक एप बनाया है. इस एप का नाम शब्द-वॉयस ऑफ दी एक्सट्राऑर्डिनरी रखा गया है. ऑटिज्म से पीड़ित लोगों को शिक्षित करना इस एप की डेवलपिंग टीम का मकसद है. एप को गूगल स्टोर से फ्री में डाउनलोड किया जा सकता है. चित्रों के माध्यम से एप में जानकारी दी जाती है. एप में इस तरह के फीचर एड किए गए हैं जिससे बच्चे अपने को अकेला नहीं महसूस करें.  

शब्द एप की डेवलपिंग टीम ने बताया कि इसमें बच्चे जीवन में प्रयोग किए जाने वाले शब्दों को तो सीख ही सकते हैं. इसके साथ इंटरएक्टिव गेम्स भी शामिल किए गए हैं. क्विज और यूट्यूब के कुछ शैक्षणिक वीडियो भी शामिल हैं.  

थैंक्यू बिहार पुलिस ने किया ट्वीटर पर ट्रेंड, सुशांत के फैंस ने बरसाया प्यार

एप के जरिए बच्चे अपने दोस्तों और प्रिय लोगों से चित्र का उपयोग करके बात कर सकते हैं. कोई भी इस एप में मैसेज को आसानी से बना सकता है. एप में गेम्स के साथ ड्रांइग कैनवास और निशुल्क डिक्शनरी भी उपलब्ध है. इसी के साथ 13 साल से कम उम्र के सामान्य बच्चे भी इस एप का प्रयोग कर सकते हैं. 

मीडिया से बात करने से रोकने के लिए SIT को कैदी वैन में बैठाकर ले गई मुंबई पुलिस

जानकारी के लिए बता दें, ऑटिज्म एक मानसिक बीमारी है जो बच्चों में जन्म से लेकर 3 साल की उम्र तक विकसित हो सकती है. इस बीमारी में बच्चा किसी से बात नहीं कर पाता है. एक रिसर्च में सामने आया कि ऑटिज्म का सीधा संपर्क दिमाग के उस हिस्से से होता है, जिसे सांइस में वर्किंग मेमरी कहा जाता है.

अन्य खबरें