पटना AQI: हवा में प्रदूषण हुआ जहरीला, हर्ट और लंग मरीजों को घर में रहने की सलाह

Smart News Team, Last updated: 04/12/2020 07:50 PM IST
बढ़ते वायु प्रदूषण के कारण बिहार की राजधानी पटना ने निशान को छू लिया है. जिसके तहत शहर के प्रदूषण ने पीएम 2.5 के स्तर को भी पार कर लिया. वहीं, सीपीसीबी ने छह मॉनिटरिंग स्टेशन की रिपोर्ट के आधार पर यह बुलेटिन जारी किया है. 
बिहार की राजधानी पटना का एयर क्वालिटी इंडेक्स 400 से ऊपर पहुंचा.

पटना: प्रदेश की राजधानी में हवा शुक्रवार को बेहद प्रदूषित रही. जिसके चलते लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया और ऐसे में शहर ने एक्यूआई भी 400 के पार कर लिया. इसके तहत पटना देश के 113 शहरों में सातवां सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर रहा. पटना ने बढ़ते वायु प्रदूषण खतरे के निशान के छू लिया है. जिसके तहत शहर ने पीएम 2.5 के स्तर को भी पार कर दिया है. वहीं, सीपीसीबी ने छह मॉनिटरिंग स्टेशन की रिपोर्ट के आधार पर यह बुलेटिन जारी किया. आपको बता दें कि शहर का एयर क्वालिटी इंडेक्स शुक्रवार को 404 रहा.

वहीं, राज्य के मुजफ्फरपुर शहर में हवा जहरीली हो गई. जिसकी वजह से यहां का एक्यूआई भी 364 तक जा पहुंचा. जबकि बिहार के तीसरे शहर गया का एक्यूआई 192 रहा. साथ ही सीपीसीबी के प्रदेश में स्थित मुरादपुर स्टेशन ने पटना का एक्यूआई 422 बताया. वहीं, अन्य चार स्टेशनों ने भी शहर की हवा को बेहद प्रदूषित दर्ज की. साथ ही इन्होंने भी 350 से 400 के बीच पटना का एक्यूआई बताया.

बिहार से रामविलास पासवान की राज्यसभा सीट पर निर्विरोध जीते BJP के सुशील मोदी

अपनी रिपोर्ट में सीपीसीबी ने पटना के बाद दिल्ली को प्रदूषण के मामले में सबसे खराब शहर बताया. जहां का एक्यूआई भी ज्यादा अच्छा नहीं रहा और इस कारण लोगों का जीना दुभर हो गया. साथ ही यह भी बताया कि 113 प्रदूषित शहरों में पटना का स्थान सातवें पायदान पर रहा है.

रोजगार, वैक्सीन जैसे चुनावी वादों को पूरा करेगी नीतीश सरकार, तैयार होगा रोडमैप

बीएसपीसीबी के चैयरमेन अशोक घोष ने बताया कि इन शहरों में प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए बोर्ड एक्शन प्लान तैयार कर चुका है. उन्होंने आगे कहा, राज्य में चुनावों की वजह से प्रभावी तरीके से इसे लागू नहीं किया जा सका था. साथ ही उन्होंने सलाह दी है कि फेफड़े या हार्ट पेशेंट बचाव के लिए घर पर ही रहें.

NDA पर बरसे तेजस्वी, 5 दिसंबर को किसानों के साथ होगा महागठबंधन का प्रदर्शन

आपको बता दें कि हाल ही में बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने बढ़ते प्रदूषण के मद्देनज़र इन तीन शहरों में औद्योगिक कार्यों पर प्रतिबंध लगा दिया था. असल में ये भी हवा को जहरीली बनाने का एक कारण हैं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें