रूपेश सिंह हत्या की जांच के लिए दो टीमें गठित, बैंक अकाउंट की पड़ताल जारी

Smart News Team, Last updated: Tue, 26th Jan 2021, 4:43 PM IST
बैंक अकाउंट की जांच के दौरान पुलिस को रूपेश सिंह के खाते में 20 हजार रूपए से भी कम रूपए मिले हैं. मामले की जांच के लिए दो टीमों का गठन किया गया है. वहीं दूसरी तरफ शुटरों की तलाश शुरू कर दी है जिसमें अभी तक बिहार, झारखंड के अलावा कुछ अन्य स्थानों में छापेमारी की गई है.
इंडिगो मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या के बाद पुलिस अब उनके बैंक अकाउंट की जांच में जुटी.

पटना. इंडिगो मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या के बाद पुलिस अब उनके बैंक अकाउंट की जांच में जुट चुकी है. पुलिस को रूपेश सिंह के खाते में 20 हजार रूपए से भी कम रूपए मिले हैं. मामले की जांच के लिए दो टीमों का गठन किया गया है. वहीं दूसरी तरफ शुटरों की तलाश शुरू कर दी है जिसमें अभी तक बिहार, झारखंड के अलावा कुछ अन्य स्थानों में छापेमारी की गई है. अभी तक इसमें कोई बड़ी कामयाबी मिली है. 

हत्या के मामले की जांच कर रही टीम यह जानने की कोशिश कर रही है कि रूपेश सिहं का ट्रांजेक्शन कितना था. एसआईटी की टीम ये पता नहीं लगा पाई है कि उनका लेनेदेन किन किन के साथ था. हांलाकि इसका पता लगाया गया है कि उन्होंने नवंबर महीने में उन्होंने धनतेरस के मौके पर लग्जरी गाड़ी 25 लाख रुपये में खरीदी थी जिसके के लिए उन्होंने कार लोन लिया था. पुलिस पता लगा रही है कि उनके कितने बैंक खाते थे. 

 

गणतंत्र दिवस: CM नीतीश ने आवास पर फहराया तिरंगा, बिहारवासियों को दीं शुभकानाएं

सूत्रों से जो जानकारी मिल रही है कि तीन महीने पहले पुनाईचक के रहने वाले एक व्यवसायी से विवाद हुआ था जिसके चलते जांच की जा रही है. साथ ही जानकारी मिली है कि दोनों बीच हुए झगड़े का निपटारा करने के लिए लोगों ने बीच-बचाव किया था. मामले की जांच के लिए तकनीक का भी इस्तेमाल किया जा रहा और इसके अलाव इसमें अधिकारी खुद मामले को देख रहे हैं. 

पत्नी ने छोड़ा तो पति को जज साहब ने कहा- उसे भूल जाइए और दूसरी की तलाश कीजिए

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें