बिहार में कोरोना जांच फर्जीवाड़े के बाद क्वारंटाइन सेंटर स्कैम, जांच जारी

Smart News Team, Last updated: Tue, 16th Feb 2021, 11:45 PM IST
दानापुर में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर पर हुए खर्च में गड़बड़ी की आशंका को देखते हुए जांच शुरू कर दी गई है. यह जांच डीएम के निर्देश पर जांच शुरू की गई है. दानापुर एसडीओ ने तीन सदस्यीय जांच टीम गठित की है. लॉकडाउन के दौरान दानापुर में सेंट्रल स्कूल के अलावा दो और जगहों पर क्वारंटाइन सेंटर बनाए गए थे.
दानापुर एसडीओ ने तीन सदस्यीय जांच टीम गठित की है. (प्रतिकात्मक फोटो)

 

पटना- बिहार में एक ओर जहां कोरोना जांच फर्जीवाड़ा और चुनावी खर्च स्कैम की जांच हो रही है वहीं एक और घपले की बात सामने आ रही है. दरअसल, दानापुर में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर पर हुए खर्च में गड़बड़ी की आशंका को देखते हुए जांच शुरू कर दी गई है. यह जांच डीएम के निर्देश पर जांच शुरू की गई है. दानापुर एसडीओ ने तीन सदस्यीय जांच टीम गठित की है. बताते चलें कि लॉकडाउन के दौरान दानापुर में सेंट्रल स्कूल के अलावा दो और जगहों पर क्वारंटाइन सेंटर बनाए गए थे.

अधिकारियों के मुताबिक शुरूआती जांच में पता चला है कि एजेंसी द्वारा जो बिल दिया गया है उसमें कई इलाकों में ऐसा भी जिक्र किया गया है, जहां 90 दिनों तक बैरिकेडिंग की बात कही गई है. जबकि ज्यादातर कंटेनमेंट इलाकों में 30 दिन तक ही बैरिकेडिंग की गयी थी. इसी प्रकार क्वारंटाइन सेंटर में अन्य खर्च की भी जांच चल रही है.

कल से बिहार बोर्ड 10वीं की परीक्षा,जूते पहनकर आ सकेंगे छात्र, ये हैं दिशा निर्दश

भुगतान होने के बाद तत्कालीन डीएम कुमार रवि को शिकायत मिली कि क्वारंटाइन सेंटर में हुए खर्च का दिए गए ब्योरा में अधिक बिल दिया गया है. जिसके बाद डीएम ने 16 अक्टूबर 2020 को दानापुर एसडीओ को लिखे पत्र में कहा कि क्वारंटाइन सेंटर में हुए खर्च की गहन जांच कराएं तथा उसके बाद ही एजेंसी की बची हुई शेष राशि का भुगतान करें. डीएम के इस आदेश का तीन महीनों तक अनुपालन नहीं हुआ. जैसे ही प्रदेश के विभिन्न जिलों में कोरोना जांच में गड़बड़ी किए जाने का मामला प्रकाश में आया, वैसे ही जांच अधिकारी भी सकते में आ गए.

JDU को मजबूत करना लक्ष्य, बिहार के 243 विधानसभा क्षेत्रों में प्रभारी नियुक्त

पटना: IGNOU में तीन साल का कोर्स दो साल में करें, पांच नए कोर्स की शुरुआत

CM नीतीश की सख्ती, शराब के नशे में मिला पुलिसकर्मी तो सीधा होगा बर्खास्त

पटना निगम प्रदूषण कंट्रोल और योजनाओं पर काम को विशेषज्ञों के अनुभव का लेगा फायदा

बिहार में हाइवे किनारे बनेंगे बाजार, रेस्टोरेंट समेत खुलेंगी कई तरह की दुकान

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें