IWAI सर्वे में पटना अव्वल! मिली गंगा में सबसे ज्यादा प्रजातियों की मछलियां, भागलपुर दूसरे स्थान पर

Sumit Rajak, Last updated: Tue, 15th Feb 2022, 12:03 PM IST
  • आईडब्लूएआई के सर्वे में बिहार की राजधानी पटना में बह रही गंगा में मछलियों की सर्वाधिक प्रजातियां पायी गई हैं. इसके अलावा दूसरे और तीसरे स्थान पर भागलपुर और कहलगावं आते हैं. पटना में गंगा की धरातल का तापमान 28.6 डिग्री सेल्सियस है, जोकि सबसे कम है. जबकि गाजीपुर में सबसे ज्यादा 31.9 डिग्री सेल्सियस है. वाराणसी से फरक्का तक घोषित राष्ट्रीय जलमार्ग संख्या-1 में मालवाहक जहाज चलाने के लिए करवाया गया सर्वे.
फाइल फोटो

पटना. यूपी से लेकर बिहार तक गंगा नदी का क्या हाल ये बात किसी से छुपी नही है. नालों और फेक्ट्रियों से निकलने वाली गंदगी से गंगा नदी में प्रदूषण इस हद तक बढ़ जाता है कि आए दिन मरी हुई मछलियां की तेरती हुई तस्वीरे हमें अखबारों और टीवी पर देखने को अक्सर मिल जाती है. बढ़ते प्रदूषण की वजह गंगा नदी में पाई जाने वाली मछलियों की प्रजातियों में भारी गिरावट आई है, वही इसके विपरीत हाल में किए गए एक सर्वे में इस बात की पुष्टि हुई है कि इस वक्त बिहार की राजधानी पटना में बह रही गंगा में मछलियों की सर्वाधिक प्रजातियां पायी गई हैं.

वही दूसरे और तीसरे स्थान पर भागलपुर और कहलगावं आते हैं, जहां पर गंगा में प्रदूषण का स्तर कम है, और यहां पर गंगा की धरातल का तापमान कम है. जिसकी वजह से यहां पर भी मछलियों की अच्छी खासी प्रजातियां पायी गई हैं. भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण (आईडब्लूएआई) की सर्वे रिपोर्ट में यह तथ्य सामने निकल कर आया है. सर्वे में ये भी पता चला है कि पटना में गंगा की धरातल का तापमान 28.6 डिग्री सेल्सियस है, जोकि सबसे कम है. जबकि गाजीपुर में सबसे ज्यादा 31.9 डिग्री सेल्सियस है.

चारा घोटाला केस सुनवाई से पहले लालू यादव ने की पूजा, नाश्ते में खाईं पूड़ी-जलेबी और दही

इस सर्वे में एक चिंता करने वाली बात भी सामने निकलकर आई है और वो है गंगा की प्रमुख मछली हिलसा का बक्सर से लेकर कहलगांव तक गायब होना है. जानकारी के लिए बता दे कि आईडब्लूएआई ने ये सर्वे वाराणसी से फरक्का तक घोषित राष्ट्रीय जलमार्ग संख्या-1 में मालवाहक जहाज चलाने के लिए करवाया है. आईडब्लूएआई के सर्वे के मुताबिक यूपी के वाराणसी में 54, गाजीपुर में 35, और झारखंड के साहिबगंज में 45 और फरक्का में 62 किस्म की मछलियां पायी जाती हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें