पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर घिर गए CM नीतीश, भाजपा- JDU नेताओं ने भी उठाए ये सवाल

Smart News Team, Last updated: Wed, 12th May 2021, 5:46 PM IST
  • जाप अध्यक्ष पप्पू यादव की गिरफ्तार का बीजेपी और जदयू के नेता भी विरोध कर रहे हैं. जदयू के मोनाजिर हसन ने कहा कि पप्पू यादव की गिरफ्तारी की जितनी निंदा की जाए, वो कम है. इससे पहले वीआईपी के मुकेश सहनी और हम अध्यक्ष जीतन राम मांझी भी इसका विरोध कर चुके हैं.
भाजपा और जदयू के नेताओं ने भी जाप अध्यक्ष पप्पू यादव की गिरफ्तारी का विरोध किया.

पटना. जन अधिकार पार्टी जाप के अध्यक्ष पप्पू यादव की गिरफ्तारी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेता भी इसका विरोध कर रहे हैं. सीएम नीतीश कुमार के करीबी माने जाने वाले जदयू नेता मोनाजिर हसन ने कहा कि पप्पू यादव की गिरफ्तारी की जितनी निंदा की जाए, वो कम है. वहीं बीजेपी एमएलसी रजनीश कुमार ने पप्पू यादव को रिहा करने की मांग की है.

पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर जदयू के मोनाजिर हसन ने कहा कि वे गरीबों के मसीहा के तौर पर काम कर रहे थे. गिरफ्तारी तो छपरा के डीएम और बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी की होनी चाहिए थी. उन्होंने कहा कि पप्पू यादव मुश्किल समय में गरीबों की मदद कर रहे थे. उनकी गिरफ्तारी निंदा का विषय है.

जेल में पानी-टॉयलेट की कमी पर पप्पू यादव ने शुरू की भूख हड़ताल, जानें कैसे कटी उनकी रात

जदयू नेता विजयेन्द्र यादव ने कहा कि मानवता के आधार पर राजीव प्रताप रूडी को एक मिनट भी सांसद बने रहने का अधिकार नहीं है. पप्पू यादव को मानवता के आधार पर छोड़ देना चाहिए. एंबुलेंस मामले की जांच करके डीएम को बर्खास्त और सांसद को इस्तीफा देना चाहिए. वहीं बीजेपी नेता रजनीश कुमार ने पप्पू यादव को रिहा करने की मांग की है. इससे पहले वीआईपी के अध्यक्ष मुकेश सहनी और हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी भी पप्पू यादव की गिरफ्तारी का विरोध कर चुके हैं.

जेल जाते जाते भावुक हुए पप्पू यादव, लालू और तेजस्वी से की ये खास अपील, जानें

आपको बता दें कि जाप अध्यक्ष पप्पू यादव को मंगलवार को राजधानी पटना में गिरफ्तार किया गया था. पप्पू यादव को मधेपुरा में दर्ज 32 साल पुराने अपहरण और मर्डर के मामले में अरेस्ट किया गया है. उनको पटना से मधेपुरा लाया गया. कोर्ट ने पप्पू यादव को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें