JDU अध्यक्ष आरसीपी सिंह बोले- बिहार चुनाव में चिराग पासवान की LJP ने घृणित काम किया

Smart News Team, Last updated: 05/02/2021 08:12 PM IST
  • जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आरसीपी सिंह ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में लोजपा का काम बहुत घृणित था. हमने लोकसभा चुनाव में उनकी मदद की लेकिन उन्होंने विधानसभा चुनाव में हमारे खिलाफ उम्मीदवार उतारे.
जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने बिहार चुनाव में लोजपा के रोल पर निशाना साधा है. प्रतीकात्मक तस्वीर

पटना. जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में चिराग पासवान की लोजपा का रोल बहुत घृणित था. अंग्रेजी अखबार हिन्दुस्तान टाइम्स को दिए गए इंटरव्यू में आरसीपी सिंह ने कहा कि लोकसभा चुनाव में उनके सारे उम्मीदवारों को हमने जिताकर भेजा और विधानसभा चुनाव में एनडीए के उम्मीदवारों के खिलाफ उम्मीदवार खड़े किए. 

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा कि चुनाव में हमारी पार्टी के खिलाफ उन्होंने उम्मीदवार खड़े किए ही, बीजेपी के उम्मीदवारों के खिलाफ भी अपने उम्मीदवार मैदान में उतारे. उन्होंने कहा कि हम राज्य वाले हैं. हमने लोकसभा चुनाव में जिनको जिताने में मदद की थी. उनका कर्तव्य बनता था कि बिहार विधानससभा चुनाव में, लेकिन नहीं किया. हम लोग तो ऐसे लोगों के बारे में क्या सोचें? इसलिए हम लोग इसकी चिंता नहीं करते हैं.

बिहार मंत्रिमंडल का विस्तार बहुत जल्द, CM नीतीश कुमार करेंगे ऐलान: डिप्टी सीएम

एनडीए घटक दलों की मीटिंग में चिराग पासवान को बुलाए जाने के सवाल पर जदयू अध्यक्ष ने कहा कि एनडीए में हमारे नेता तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं. स्वभाविक है कि भारतीय जनता पार्टी बड़ी पार्टी है. अब वो लोग किसको बुलाए हैं और किसको नहीं बुलाए हैं, इस पर तो उनको देखना है. बीते दिनों एनडीए के घटक दल की मीटिंग में लोजपा के चिराग पासवान को बुलाने पर जदयू ने हमला किया था. 

बिहार में सोमवार से कोरोना गाइडलाइन के साथ खुलेंगे स्कूल, जानें क्या हैं निर्देश

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने तो ट्वीट करते हुए बीजेपी पर निशाना साधा था. जिसके बाद चिराग पासवान ने स्वास्थ्य का हवाला देते हुए इस मीटिंग से दूरी बनाने की बात कही थी. एनडीए से कई दलों के छोड़े जाने पर जदयू के अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा कि संबंध में हमेशा लचीलापन रखा जाता है. लोकतंत्र में ऑप्शन रहता है, हम सहमत नहीं है तो हम क्या करेंगे?

लालू यादव की मेडिकल रिपोर्ट पेश नहीं करने से रिम्स पर भड़का झारखंड हाई कोर्ट

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें