कोरोना से पटना एम्स में भर्ती सर्जन के राजन समेत तीन डॉक्टरों की मौत, 410 नए केस

Smart News Team, Last updated: 30/07/2020 09:50 PM IST
  • पटना एम्स में कोरोना से जहानाबाद जिले के बड़े सर्जन डॉक्टर के राजन की गुरुवार शाम मौत हो गई. डॉक्टर राजन के लिए प्लाज्मा थेरेपी डॉनर की तलाश चल रही थी. के राजन के अलावा बिहार भर में दो और डॉक्टरों का कोरोना से निधन हो गया.
डॉक्टर के राजन को कोरोना पॉजिटिव निकलने पर पटना एम्स में भर्ती कराया गया था.

पटना. पटना एम्स में भर्ती जहानाबाद के बड़े डॉक्टर के राजन की कोरोना से मौत हो गई है. पूरे बिहार में गुरुवार को तीन डॉक्टरों की कोरोना से मौत हुई है जिसमें के राजन भी शामिल हैं. इस बीच पटना में गुरुवार को 410 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं जिसके साथ जिले में अब तक मिले कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 8138 हो गई है. पीएमसीएच के डिप्टी सुपरिटेंडेंट समेत पांच डॉक्टर कोरोना संक्रमित हुए हैं जिनमें सर्जरी विभाग के हेड डॉक्टर आईएस ठाकुर भी शामिल हैं.

डॉक्टर के राजन को 10 दिन पहले सांस लेने में तकलीफ के बाद उन्हें पटना के रुबन अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जांच में कोरोना पॉजिटिव निकलने पर उन्हें पटना एम्स में शिफ्ट कर दिया गया. उनके स्वास्थ्य में शुरुआती सुधार के बाद लगातार गिरावट आ रही थी. राजन को प्लाज्मा थेरेपी देने के लिए डॉनर भी खोजा जा रहा था. इसी बीच गुरुवार को अचानक तबीयत बिगड़ी और शाम 5 बजे उनकी मृत्यु हो गई. 

पटना: बिहार में लॉकडाउन 16 अगस्त तक बढ़ा, पाबंदी में बीतेगा स्वतंत्रता दिवस

डॉक्टरों के अनुसार उन्हें किडनी की समस्या भी थी. मसौढ़ी अस्पताल में पदस्थापित डॉक्टर के राजन जाने-माने सर्जन थे. जहानाबाद में उनका क्लिनिक है जहां वो बैटे के साथ प्रैक्टिस करते थे. राजन को दो पुत्र और एक बेटी हैं. उनका शव देर रात जहानाबाद पहुंचेगा. कोरोना संक्रमण ने कुछ दिन पहले जहानाबाद नगर थाना के एक दारोगा की जान ली थी.

अन्य खबरें