कोरोना वैक्सीन लगवाकर ही ट्रेन सफर, टेस्ट रिपोर्ट भी जरूरी, जानें कुंभ गाइडलाइंस

Smart News Team, Last updated: Sun, 14th Feb 2021, 7:34 AM IST
  • भारतीय पूर्व मध्य रेलवे ने हरिद्वार कुंभ मेले में बिहार से जाने वाले यात्रियों के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी है. कोरोना गाइडलाइंस के तहत सभी यात्रियों को अपना कोरोना टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट या कोविड वैक्सीन का सर्टिफिकेट साथ लेकर जाना होगा.
कोरोना वैक्सीन लगवाकर ही ट्रेन सफर की परमिशन, टेस्ट रिपोर्ट लेकर होगा घूमना, जानें पूरा मामला

पटना. 27 फरवरी से हरिद्वार में कुंभ शुरूहोने जा रहा है. इसी के साथ लोगों की स्वास्थ्य और कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए कुंभ आने वाले श्रद्धालुओं के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी गई हैं. साथ ही कोविड के प्रोटोकॉल को पालन करना भी अनिवार्य कर दिया है. कोविड प्रोटोकॉल के तहत सभी श्रद्धालुओं को अपनी कोरोना टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट लेकर चलनी होगी और जिन लोगों को वैक्सीन लग चुकी है उन लोगों वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट लेकर जाना होगा.

कुंभ मेला को लेकर जारी गाइडलाइंस पर बात करते हुए पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि ट्रेन से हरिद्वार पहुंचने वाले सभी श्रद्धालुओं को सबसे पहले अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा. साथ ही अपने पास कोरोना वैक्सीन लगने का प्रमाण पत्र या फिर कोविड आरटीपीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट साथ में रखनी पड़ेगी और ये रिपोर्ट 72 घंटे के अंदर जारी होना चाहिए. वहीं यात्रियों को जारी की गई वेबसाइट https://dsclservices.org.in/apply.php पर अपना रजिस्ट्रेशन भी कराना होगा.

पटना एम्स में सोमवार से शुरू होगी OPD, मरीजों को नहीं लौटना पड़ेगा वापस

उन्होंने ने आगे बताया कि इतना ही कुंभ में प्रस्थान के दौरान सभी यात्री कोरोना के नियमों का भली बाती पालन करें. मास्क पहनकर ही यात्रा करे. साथ ही कोरोना संक्रमण को देखते हुए आपस में दूरी बनाकर रखे. साथ ही ट्रेन में यात्रा के दौरान अपना चद्दर लेकर चले. वहीं उत्तराखंड सरकार ने भी कुंभ मेले के लिए कोरोना गाइडलाइंस बनाई है. जिसके तहत हरिद्वार पहुंचने वाले सभी यात्री अपना कोरोना की रिपोर्ट अपने साथ लेकर चलेंगे. साथ ही यदि उन्हें वैक्सीन लगी हुई है तो उसका प्रमाण पत्र भी अपने पास रखेंगे.

CM नीतीश का अधिकारीयों को निर्देश, कहा- पता करें कोई धान बेचने से वंचित तो नहीं

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें