लालू ने सालों बाद सिर्फ तीन मिनट की RJD नेताओं से बात, अचानक हुई तबीयत खराब

Smart News Team, Last updated: Sun, 9th May 2021, 7:45 PM IST
  • लालू यादव ने विधायकों से उनके क्षेत्रों का हाल जाना तो वहीं उनके सलाह भी सुनें. लेकिन खराब स्वास्थ की वजह से वह बहुत देर तक विधायकों से जुड़े नहीं रहे पाए. इसकी जानकारी बैठक के दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने लालू के खराब स्वास्थ्य और उनका ऑक्सीजन लेवल गिरने की दी.
लालू ने सालों बाद सिर्फ तीन मिनट की RJD नेताओं से बात, अचानक हुई तबीयत खराब (फाइल फ़ोटो)

पटना: बेल पर जेल से बाहर आने के बाद लालू यादव एकबार फिर आप चीर परिचित अंदाज में नजर आए, इस कोरोना महामारी के दौर में भी वो अपने पार्टी के विधायकों से वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से जुड़े, लालू यादव ने विधायकों से उनके क्षेत्रों का हाल जाना तो वहीं उनके सलाह भी सुनें. लेकिन खराब स्वास्थ की वजह से वह बहुत देर तक विधायकों से जुड़े नहीं रहे पाए. इसकी जानकारी बैठक के दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने लालू के खराब स्वास्थ्य और उनका ऑक्सीजन लेवल गिरने की दी.

 लालू प्रसाद ने दो-तीन मिनट ही पार्टी नेताओं को संबोधित किया. उन्होंने पार्टी विधायकों का आह्वान किया कि यह बहुत कठिन समय है. बड़ी संख्या में कोरोना से लोगों की जान जा रही है. ऐसे में लगातार अपने क्षेत्र में सक्रिय रहें और लोगों की मदद करें. उन्होंने ये भी बताया की राजद जिला स्तर पर सहायता केंद्र भी खोलेगा.

बिहार में टीकाकरण को लेकर CM नीतीश का निर्देश,इस बार स्कूल-कॉलेज में लगेंगे कैंप

जरूरतमंदों को लालू रसोई में मिलेगा भोजन

पार्टी की वर्चुअल मीटिंग में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने महामारी में हर संभव जनता की मदद करने सजग और सक्रिय रहने की अपील की. वर्चुअल मीटिंग में भाग लेने के बाद शेखपुरा विधायक विजय सम्राट ने बताया कि सरकार सोई हुई है. अस्पतालों में नियमित डॉक्टरों का अभाव है. उन्होंने बताया कि गरीब लोगों को कोरोनाकाल में अब लालू रसोई के माध्यम से भोजन उपलब्ध कराया जाएगा. जनप्रतिनिधियों को जमीन पर उतरकर काम करने की जरूरत है. कार्यकर्ताओं से आह्वान किया गया है कि कोरोना काल में जहां तक हो सके लोगों को हरसंभव सहयोग करें.

आरजेडी के विधायकों को दिए गए कोरोना से लड़ने के टिप्स

० सभी अपने क्षेत्रों में अस्थायी राजद कोविड केयर सेंटर स्थापित करें. सभी अपने अपने विधानसभा क्षेत्र में ऐसे हॉल अथवा स्कूल या सामुदायिक भवनों को चिन्हित करें जिनका राजद कोविड केयर अथवा आइसोलेशन सेंटर के रूप में सदुपयोग किया जा सके. इसके लिए स्थानीय प्रशासन का सहयोग लेते हुए वहाँ बिस्तर, ऑक्सिजन सिलिंडर, निर्बाध बिजली आपूर्ति, दवाएँ, साफ सफाई और मरीज़ो के लिए 24 घण्टे डॉक्टरी सलाह सुनिश्चित करवाएँ.

० पार्टी द्वारा हर ज़िला में राजद कोविड केयर सेंटर स्थापित करने का प्रयास है जिसमें कोविड मरीज़ों को शुरुआती लक्षण दिखने पर दवा किट और अन्य ज़रूरी मदद उपलब्ध कराया जा सके.

० सुनिश्चित करें कि आपके विधायक निधि का एक एक पैसा आपके क्षेत्र में व्यय हो रहा है कि नहीं! इसमें किसी प्रकार के घालमेल या बंदरबांट के प्रति सजग रहें.

० निरन्तर अपने क्षेत्र के अस्पतालों/प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों की जाँच पड़ताल करते रहें. वहाँ दिखाई देनेवाली किसी भी प्रकार की कमी, सरकारी कोताही, प्रशासनिक लीपापोती या कर्मियों द्वारा मरीज़ो व परिजनों की अनदेखी या दुर्व्यवहार का फोटो खिंचवाएँ, वीडियो बनवाएँ और कड़ा विरोध दर्ज करें.

पटना के किस अस्पताल में है कोविड बेड, अब एक फोन कॉल से करें पता, जानें डिटेल

० राजद तमाम सरकारी संसाधनों, जीवनरक्षण उपकरणों और साधारण दवाओं की कमी के बावजूद प्रदेशवासियों की सेवा में लीन चिकित्सकों, नर्सों, स्वास्थ्यकर्मियों और फ़्रंटलाइन योद्धाओं का हार्दिक साधुवाद करती है.

० राजद विशेष रूप से चतुर्थ श्रेणी के सभी कर्मचारियों, सफ़ाईकर्मियों और योद्धाओं को जो अस्पतालों से लेकर शमशान घाटों तक पूर्ण समर्पण भाव से मानव सेवा में अपना विशिष्ट योगदान दे रहे है उनके प्रति पार्टी हार्दिक आभार प्रकट करती है तथा उन्हें सरकार द्वारा विशेष प्रोत्साहन राशि देने की माँग करती है.

० सभी विधायकगण और नेतागण प्रशासन द्वारा अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए संतुलित व पौष्टिक आहार का उत्तम विकल्प सुनिश्चित करें. इसके अलावा मरीज़ो के परिजनों और निर्धन स्थानीय निवासियों के लिए स्थानीय लोगों व प्रशासन के सहयोग से कम्युनिटी किचन की शुरुआत करें.

बिहार स्वास्थ्य विभाग ने CT स्कैन का रेट किया तय, अधिक वसूलने पर होगा सख्त एक्शन

० अपने क्षेत्र में ज़रूरी दवाओं, इंजेक्शन या ऑक्सिजन सिलिंडर की किसी प्रकार की जमाखोरी, मुनाफाखोरी या कालाबाज़ारी को हर कीमत पर रोकें. यह भी सुनिश्चित करें आपके क्षेत्र के सरकारी अस्पतालों में बेड या किसी अन्य सुविधा के लिए वहाँ के सरकारी बाबू परिजनों से घूस ना वसूलें.

० जितना सम्भव हो सके उतनी संख्या में अपने नाम से क्षेत्र में एम्बुलेंस चलवाएँ. दवाओं का इंतज़ाम रखे और क्षेत्र में दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने की कोशिश करें.

राजद के जो प्रत्याशी जीत कर विधायक बने और जो ज़बरदस्ती हराए गए है उन सभी प्रत्याशियों से मेरी अपील हैं की इस वक्त एक हो जाएँ, मानवता पर संकट आया है इसे मिल कर सुलझाएँ और यथासंभव ज़रूरतमंदो की मदद करें.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें