चारा घोटाले में लालू यादव दोषी करार, CBI कोर्ट के फैसले पर रोने लगे राजद कार्यकर्ता

Ankul Kaushik, Last updated: Tue, 15th Feb 2022, 12:51 PM IST
  • देश के मशहूर चारा घोटाले के डोरंडा ट्रेजरी मामले में सीबीआई कोर्ट ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है. इस केस को लेकर राजद कार्यकर्ता कोर्ट के बाहर रोने लग गए.
कोर्ट के बाहर रोने लगे राजद कार्यकर्ता

रांची. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव को रांची में सीबीआई की विशेष अदालत ने चारा घोटाले के पाँचवें मामले डोरंडा ट्रेजरी में दोषी करार दिया है. वहीं कोर्ट का फैसला आने के बाद राजद कार्यकर्ताओं ने कोर्ट परिसर के बाहर रोना शुरू कर दिया. लालू यादव को दोषी होने पर राजद कार्यकर्ताओं का कहना है कि उन्हें कम से कम सजा मिले और इसके साथ ही उनकी सेहत का भी ध्यान रखा जाए. इसके साथ ही कोर्ट के इस फैसले पर राजद के मंत्री व विधायक काफी निराश हैं.

वहीं सीबीआई की विशेष अदालत लालू यादव की सजा का ऐलान 21 फरवरी को करेगी और लालू यादव को उस दिन अदालत में मौजूद रहना होगा. चारा घोटाले के कुल पांच मुकदमों में लालू प्रसाद यादव अभियुक्त बनाये गए थे और चार मामलों में लालू यादव को पहले ही सजा हो चुकी है. अब देखना ये है कि लालू यादव को 21 फरवरी को सजा होगी या नहीं क्योंकि वह पहले ही चारा घोटाला मामले के केसों में अपनी सेहत का हवाला देकर बेल पर बाहर हैं. हालांकि माना जा रहा है कि इस बार लालू यादव को बेल नहीं मिलेगी. 

चारा घोटाला केस के डोरंडा कोषागार मामले में CBI कोर्ट का फैसला, लालू यादव दोषी 

झारखंड के रांची में सीबीआई की विशेष अदालत ने लालू यादव को डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ की अवैध निकासी का दोषी पाया है. लालू यादव इससे पहले 950 करोड़ चारा घोटाले के चार मामलों में दोषी पाए गए हैं. जिनमें चाईबासा कोषागार से 37.7 करोड़ और 33.13 करोड़ की धोखाधड़ी, देवघर कोषागार से 89.27 करोड़, और राज्य से 3.76 करोड़ की धोखाधड़ी से निकासी और दुमका कोषागार से अवैध तरीके से निकासी का मामला है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें