रामविलास पासवान के अंतिम दर्शन करने पहुंचे एयरपोर्ट पर बेटी-दामाद को रोका

Smart News Team, Last updated: 10/10/2020 08:54 AM IST
  • केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के पार्थिव शरीर का पटना एयरपोर्ट पर अंतिम दर्शन करने से उनकी बेटी आशा देवी और दामाद अनिल कुमार साधु को सुरक्षाकर्मियों ने रोका. जाप अध्यक्ष पप्पू यादव को भी अंतिम दर्शन नहीं करने दिया गया.
रामविलास पासवान: पार्थिव शरीर का दर्शन करने से बेटी, दामाद और पप्पू यादव को रोका

पटना. केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर शुक्रवार की शाम को दिल्ली से पटना लाया गया. उनकी बेटी आशा देवी और दामाद अनिल कुमार साधु को एयरपोर्ट पर अंतिम दर्शन करने से सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें बाहर ही रोक दिया. इससे नाराज अनिल कुमार साधु ने मीडिया के सामने नाराजगी व्यक्त की. उन्होंने आरोप लगाया कि बेटी आशा देवी को पिता का अंतिम दर्शन नहीं करने दिया जा रहा है. 

सुरक्षाकर्मियों ने जाप अध्यक्ष पप्पू यादव को भी केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के पार्थिव शरीर काअंतिम दर्शन नहीं करने दिया गया. उन्होंने आरोप लगाया है कि सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें एयरपोर्ट के अंदर जाने से रोका. जिस वजह से पप्पू यादव रामविलास पासवान के पार्थिव शरीर का अंतिम दर्शन नहीं कर पाए. उन्होंने आरोप लगाया कि घंटों इंतजार के बाद भी उन्हें दिवंगत रामविलास पासवान का अंतिम दर्शन करने से रोका गया. मैं इससे दुखी हूं.

रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर पटना पहुंचा, दर्शन करने एयरपोर्ट पहुंचे नीतीश

 बता दें कि एयरपोर्ट के स्टेट हैंगर में केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर दर्शन के लिए रखा गया था. सुरक्षा को देखते हुए जिला प्रशासन ने अंतिम दर्शन में शामिल होने वाले लोगों के लिए एक लिस्ट उपलब्ध कराई थी, इसी लिस्ट के अनुसार ही स्टेट हैंगर में लोगों को प्रवेश दिया गया.

पटना लाया जाएगा रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर, दीघा घाट पर दाह संस्कार

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और लोक जनशक्ति पार्टी के संस्थापक गुरुवार की रात 74 साल की उम्र में उनका निधन हो गया. पिछले कुछ दिनों से वे भर्ती थे और उनका इलाज चल रहा था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें