चंपारण में ही महात्मा गांधी की प्रतिमा टूटी, चरखा पार्क में बापू की मूर्ति तोड़ने से सनसनी

Smart News Team, Last updated: Mon, 14th Feb 2022, 7:33 PM IST
  • बिहार के पूर्वी चंपारण के मोतिहारी के चरखा पार्क में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की मूर्ति तोड़ने की खबर से सनसनी फैल गई. सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची. मामले की जांच की जा रही है.
फोटो- चरखा पार्क मोतिहारी

पटना. बिहार के पूर्वी चंपारण जिले के मोतिहारी में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की मूर्ति तोड़ने की खबर ने सनसनी फैला दी है. राष्ट्रपिता की यह मूर्ति चंपारण सत्याग्रह के शताब्दी समारोह के मौके पर चरखा पार्क में स्थापित की गई थी. मूर्ति टूटने की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की. पुलिस का कहना है कि इस मूर्ति से तोड़फोड़ करने वाले एक आरोपी की पहचान की गई है जिसकी तलाश पुलिस कर रही है. मौके पर डीएम-एसएसपी भी पहुंचे और मामले की जानकारी ली. 

मिली जानकारी के अनुसार, सोमवार सुबह स्थानीय लोगों ने चरखा पार्क में महात्मा गांधी की मूर्ति को गिरे हुए देखा तो तुरंत पुलिस को सूचना दी. पुलिस मौके पर पहुंची मूर्ति को वहां से उठाकर खड़ा किया और आला-अधिकारियों को इस बारे में सूचित किया गया. पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धारा 295 और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के तहत केस दर्ज किया है. एक आरोपी को पहचान लिया गया है जिसकी तलाश की जा रही है. घटना की जानकारी लगते ही राजनीतिक पार्टियों के नेताओं और कई समाजसेवियों ने इसकी निंदा की.

होली से पहले दिल्ली, UP-बिहार के रूटों पर फिर चलेंगी बंद 30 ट्रेनें, फुल लिस्ट

मूर्ति टूटने के बाद मौके पर पुलिस-प्रशासन की टीम

दूसरी ओर प्रशासन महात्मा गांधी की नई मूर्ति की तैयारी में लग गई है. पूर्वी चंपारण के जिला अधिकारी कपिल अशोक ने कहा है कि जल्द ही राष्ट्रपति की नई मूर्ति को अपनी जगह पर लगा दिया जाएगा. इसके साथ ही जिन लोगों ने भी यह हरकत की है उनके खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन लिया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें